पाटन में हुई सनसनीखेज लूट का खुलासा, 3 लुटेरे गिरफ्तार

जबलपुर @ नॅान बैंकिंग संस्था सैटिल माईक्रो फायनेंस कम्पनी के मनीष सराठे 29 वर्ष निवासी ग्राम छपाराखुर्द सिवनी ने अपने साथी श्रवण मिश्रा 28 वर्ष ग्राम सिमरिया रीवा के साथ आकर रिपोर्ट दर्ज करायी कि उसकी कम्पनी का हैड आफिस महानद्दा जबलपुर में है, उसकी कम्पनी महिलाओ को रोजगार हेतु लोन देती है एवं किश्तों मे जमा कराती है। आज मीटिंग कर महिलाओ से 66 हजार 565 रूपये ग्राम कैमोरी से कैश कलेक्शन कर शहपुरा वापस लौटते समय ग्राम कैमोरी से आगे 2 मोटर सायकिलो मे 4 लडके जिनकी 20-25 वर्ष रही होगी आये और मोटर सायकिल अडा दिये, तथा कहने लगे कि तुमने हमारी चाची का एक्सीडेंट किया है, मना किए जाने पर कि हमने कोई एक्सीडेट नहीं किया तो कहने लगे नहीं 4 दिन पहले किया था, जबरदस्ती अपनी मोटर सायकिलो मे बैठा लिये, ग्राम पडरिया के पास जहॉ सूनसान रोड थी, एक लड़का जिसने उसकी गर्दन पर कट्टा अड़ा रखा था उसके हाथ से थैला छीन लिया और सभी 4 लडके 2 मोटर सायकिलो मे उसकी मोटर सायकिल छोडकर उडना तरफ भाग गये। थैले में नगदी 66 हजार 565 रूपये एवं पर्स जिसमें 6300 रूपये कुल 72 हजार 865 रूपये के अलावा, 2 मोबाईल फोन एंव टेब रखे हुये थे।

घटना को गम्भीरता से लेते हुये पुलिस अधीक्षक जबलपुर शशिकांत शुक्ल द्वारा आरोपियों की शीध्र पता लगाकर गिरफ्तार करने का आदेश दिया। टीम ने घटना स्थल के आसपास लगातार पतासाजी करते हुये घटना के चंद घंटो के भीतर लूट करने वाले आरोपियों प्रवीण 22 वर्ष व राजा 20 वर्ष तमोरिया कटंगी और शुभम यादव 22 वर्ष निवासी छितुरहा थाना पाटन को गिरफ्तार कर आरोपियो के कब्जे से लूटे गये रुपयो मेे से 25218 रूपये,दो मोबाईल और एक टेब जप्त किया गया। सभी पकड़े गये आरोपी सम्पन्न किसानो के लड़के है अभी तक इनका कोई आपराधिक रिकार्ड होना नहीं पाया गया। आरोपियो ने पूछताछ पर तीन और अन्य साथियो के साथ मिलकर इस घटना को अंजाम देना स्वीकारा है जिनकी सरगर्मी से तलाश जारी है । पुलिस अधीक्षक जबलपुर शशिकान्त शुक्ल द्वारा आरोपियों को शीघ्र गिरफ्तार करने वाली टीम को 10 हजार रूपये के नगद ईनाम से पुरूस्कृत करने की घोषणा की ।