सिंहस्थ के लिये 6000 अधिकारी-कर्मचारी हुए प्रशिक्षित
उज्जैन में वर्ष 2016 में होने वाले सिंहस्थ के दौरान व्यवस्था के सुचारु संचालन के लिये अधिकारी-कर्मचारियों को प्रशिक्षण देने का काम निरंतर जारी है। अब तक 6000 अधिकारी एवं कर्मचारी प्रशिक्षित किये जा चुके हैं। राज्य सरकार के 35 विभाग के अमले को प्रशिक्षित किये जाने का कार्यक्रम तैयार किया गया है। उज्जैन जिले के लगभग सभी अधिकारी-कर्मचारी को प्रशिक्षित किया जा चुका है, जिनकी तैनाती सिंहस्थ में होगी। प्रशिक्षण देने के लिये 32 मास्टर-ट्रेनर की व्यवस्था की
गयी है।
नगर के 27 हजार विद्यार्थी को भी दिया गया प्रशिक्षण
सिंहस्थ के दौरान व्यवस्था बनाये रखने में विद्यार्थियों की भूमिका भी महत्वपूर्ण रहेगी। इसको ध्यान में रखते हुए उज्जैन नगर के स्कूल और कॉलेज के विद्यार्थियों को प्रशिक्षण दिलवाये जाने का सिलसिला निरंतर जारी है। अब तक करीब 27 हजार विद्यार्थी प्रशिक्षण ले चुके हैं। इन विद्यार्थियों को सिंहस्थ के इतिहास, पौराणिकता और सिंहस्थ में आने वाले अतिथियों को सेवा देने के लिये प्रशिक्षण दिया जा रहा है। इन विद्यार्थियों को सिंहस्थ की व्यवस्थाओं के बारे में भी विस्तार से जानकारी दी जा रही है। प्रशिक्षण के बाद यह विद्यार्थी दुर्घटना, चिकित्सा आवश्यकता और आकस्मिक स्थितियों से निपटने में अहम भूमिका अदा करेंगे।
सिंहस्थ में करोड़ों श्रद्धालु के आगमन को ध्यान में रखते हुए 2000 कंडेक्टर-ड्रायवर को भी प्रशिक्षण दिया जा चुका है। यह कंडेक्टर-ड्रायवर उज्जैन पहुँचने वाले श्रद्धालुओं को वाहन व्यवस्था के साथ सहयोग करने की जानकारी देंगे।