एक किसान और उसके बेटे ने फांसी लगाकर की आत्महत्या

इस ख़बर को शेयर करें:

जबलपुर @ मझगवां थानांतर्गत फनवानी की इस घटना में एक किसान और उसके बेटे ने पेड़ से फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। जैसे जैसे इस घटना का पता लगा गांव में ग्रामीणों का हुजूम लग गया। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और शवों को पेड़ से नीचे उतारकर पीएम के लिए भिजवाते हुए जांच शुरू कर दी है।

मझगवां थाना प्रभारी अन्नी लाल सैयाम ने बताया कि शनिवार की सुबह लगभग 10 बजे सूचना मिली कि फनवानी में रहने वाले सरमन पटेल (28) और उसके पिता चर्तुभुज पटेल (52) ने गांव में स्थित अलग-अलग पेड़ों से फांसी लगा ली है। सूचना पर वह मौके पर पहुंचे और दोनों के शव को नीचे उतारकर पंचनामा शुरू किया।

जांच में पता चला है कि चर्तुभुज और उसका बेटा सरमन सुबह लगभग 9 बजे घर से खेत के निकले थे। खेत के पास ही उन दोनों में किसी बात को लेकर विवाद हुआ। इसके पहले कोई कुछ समझ पाता सरमन ने एक पेड़ से फांसी लगा ली। सरमन अपने पिता चर्तुभुज का एकलौता बेटा था। बेटे को फांसी पर लटका देखकर चर्तुभुज दुखी हो गया और उसने भी पास ही दूसरे पेड़ से फांसी लगा ली।

पूछताछ के बाद ही मामला स्पष्ट हो पाएग जिसमें यह पता चल सकेगा कि दोनों ने यह कदम क्यों उठाया। दोनों में किसी बात को लेकर विवाद चल रहा था या दोनों कर्ज को लेकर परेशान थे और रुपये की व्यवस्था नहीं होने के कारण विवाद होता था।