अब महिला ड्राइवर निकलेंगी घरों से कचरा उठाने, वार्ड 81 में हुआ प्रयोग

इंदौर। नगर निगम द्वारा घर-घर से उठाए जा रहे कचरा वाहन में अब महिलाएं ड्राइवर के रूप में नजर आएंगी। अभी तक पुरुष ड्राइवरों द्वारा कचरा उठाया जा रहा है लेकिन महिला सशक्तिकरण का एक अनूठा प्रयास करते हुए एक ओर कदम आगे बढ़ाया जा रहा है जिसमें कचरा एकत्रिकरण की गाड़ियों पर महिला ड्राइवरों की नियुक्ति की जा रही है, ताकि वार्ड में रहवासियों के साथ सभ्यता से व्यवहार करते हुए कार्य को सकुशल पूर्ण किया जा सके। यह प्रयोग अन्नपूर्णा क्षेत्र के वार्ड क्रमांक 81 में शुरू की गई एक माह बाद अन्य वार्डों में भी इसे शुरू किया जाएगा।

वर्तमान में शहर के सभी 85 वार्डों में घर-घर से कचरा उठाने के लिए नगर निगम के ड्राइवर नियुक्त किए गए है जो सुबह से रात तक कचरा उठा रहे है और कई जगह ड्राइवरों के दुव्र्यवहार की शिकायत भी नगर निगम को मिली है जिसके चलते महापौर मालिनी गौड़ व निगम आयुक्त मनीष सिंह द्वारा महिला सशक्तिकरण का अनूठा प्रयास शुरू किया गया है जिससे अब कचरा गाड़ियों पर महिला ड्राइवरों की नियुक्ति की जा रही है जिसकी शुरुआत अन्नपूर्णा क्षेत्र के वार्ड क्रमांक 81 में की गई है। वैसे भी वार्ड में 10 बजे बाद ज्यादातर पुरुष नौकरी या दुकान पर चले जाते है जिससे घरों में महिलाएं होती हैं। इसीलिए नगर निगम द्वारा महिला ड्राइवरों की नियुक्ति कचरा गाड़ियों पर की जा रही है ताकि वार्ड में रहवासियों के साथ सभ्यता से व्यवहार करते हुए कार्य को सकुशल पूर्ण किया जा सके।