आधार इनेबल्ड पीडीएस पात्रता सूची नाम जोड़े जाने की प्रक्रिया में तीन दिन में 50 से 11वें स्थान पर पहुंचा जबलपुर

जबलपुर। पीडीएस सूची में पात्र परिवारों के नाम जोडऩे की प्रक्रिया में जबलपुर ने पिछले तीन दिनों में लंबी छलांग लगाई है। जबलपुर आधार इनेबल्ड पीडीएस पात्रता सूची में नये नाम जोड़े जाने की प्रक्रिया में जहां 26 अगस्त तक प्रदेश में 50वें नंबर पर था वहीं अब यह 11वें स्थान पर आ गया है।

ज्ञात हो कि कलेक्टर कर्मवीर शर्मा ने तीन दिन पहले खाद्य विभाग तथा स्थानीय निकायों के अधिकारियों की बैठक लेकर पात्र परिवारों को आधार वेस्ड पीडीएस सूची में शामिल करने की प्रक्रिया में तेजी लाने के निर्देश दिये थे। इसी का नतीजा रहा की तीन दिनों में जबलपुर जिले में 65 फीसदी नये पात्र परिवारों के नाम सूची में शामिल कर लिए गए। इसके पहले 26 अगस्त तक जबलपुर जिले में केवल 16 फीसदी नये पात्र परिवारों के नाम एवं आधार सीडिंग पीडीएस पोर्टल पर दर्ज किये जा सके थे।

जिला सूचना विज्ञान अधिकारी आशीष शुक्ला के मुताबिक कलेक्टर कर्मवीर शर्मा द्वारा पात्रता सूची में नये पात्र परिवारों के नाम जोडऩे और आधार सीडिंग के काम में तेजी लाने के दिये गये निर्देशानुसार नगर परिषद पाटन में 86 प्रतिशत, नगर परिषद भेड़ाघाट में 85 प्रतिशत नगर परिषद पाटन में 84 प्रतिशत नगर परिषद बरेला में 75 और नगर पालिका पनागर में 75 फीसदी पात्र परिवारों के नाम पात्रता सूची में जोड़े जा चुके हैं। इसी तरह जिले की जनपद पंचायतों में भी पात्र परिवारों के नाम जोडऩे और आधार फीडिंग का काम करीब 60 फीसदी पूरा किया जा चुका है।

ज्ञात हो कि आधार इनेबल्ड पात्रता सूची में जिले के करीब 90 हजार से अधिक गरीब परिवारों के नाम जोड़े जाने का लक्ष्य है। इन्हें सितंबर माह से ही सार्वजनिक वितरण प्रणाली का खाद्यान्न प्राप्त होने लगेगा। पीडीएस पात्रता सूची में नाम जोडऩे और आधार सीडिंग का यह कार्य वन नेशन वन राशन योजना का हिस्सा है जिसके अंतर्गत कोई भी व्यक्ति देशभर में किसी भी स्थान से अपने हिस्से का राशन प्राप्त कर सकता है।