PWD घोटाला: सीएम केजरीवाल के साढ़ू के घर पर ACB ने मारा छापा

नई दिल्ली। पीडब्ल्यूडी घोटाले में कपिल मिश्रा ने आरोप लगाते हुए अपने निशाने पर केजरीवाल के साढ़ू सुरेंद्र बंसल को भी रखा था। घोटाले के चलते एंटी करप्शन ब्रांच (ACB) ने देर रात सुरेंद्र बंसल के घर पर छापा मारा। इस छापेमारी की कार्रवाई पुलिस छोटाले से जूड़े सबूत तलाश करने के लिए कर रही है ताकि वो घोटाले से जूड़े सभी सबूतों को लताश कर सके। हालांकि, केजरीवाल के साढ़ू सुरेंद्र बंसल का निधन इसी महीने सात मई को हो चुका है।

बता दें कि ये छापा सिर्फ सुरेंद्र बंसल के यहां ही नहीं बल्कि इसके अलावा मामले से जुड़े दो अन्य व्यक्तियों के घर भी एसीबी की टीम को भेजा गया है। इन छापों से क्या कागजात मिले इसका खुलासा बाद में किया जाएगा।

केजरीवाल के साढ़ू के घर छापा मारने की ये थी वजह

पीडब्ल्यूडी घोटाले में एसीबी ने कुल तीन मामले दर्ज किए हैं। इनमें से एक रेणु कंस्ट्रक्शन भी है। रेणु कंस्ट्रक्शन कंपनी केजरीवाल के साढू सुरेंद्र बंसल की कंपनी है। यह अलग बात है कि एफआईआर में सुरेंद्र बंसल का नाम नहीं है। आरोप ये भी है कि पीडब्ल्यूडी मंत्री सत्येंद्र जैन ने सुरेंद्र बंसल को ठेका देने में पद का दुरुपयोग किया है।

गौरतलब है कि पीडब्ल्यूडी ने 2014 से 2016 के दौरान उत्तरी-पूर्वी दिल्ली में 2 स्थानों पर सीवर और नाली बनाने के काम का ठेका दिया था। आरोप है कि यह ठेका अरविंद केजरीवाल के साढ़ू सुरेंद्र बंसल की कंपनी रेणु कंस्ट्रक्शन को दिया गया, लेकिन काम आगे कुछ फर्जी कंपनियों को दे दिया गया। जिसमें कई करोड़ का घोटाला हुआ।

आरोप यह भी है कि नियमों को ताक पर रख कर इस काम के करीब 10 करोड़ रुपये के बिल पास कर दिए गए। ये बिल बोगस कंपनियों के नाम ही पास किये गए थे जो सोनीपत और रोहिणी के फर्जी पतों पर दर्ज थीं। इस मामले को रोड एंटी करप्शन ऑर्गेनाइजेशन (RACO) नाम की एनजीओ के कार्यकर्ता राहुल शर्मा ने उठाया था।