फर्जी मार्कशीट के गोरख धंधे मे लिप्त 3 आरोपी गिरफ्तार
इस ख़बर को शेयर करें

धोखाधड़ी कर 20 से 30 हजार रूपये में बनाकर देते थे फर्जी मार्कशीट, मार्कशीट असली है को दिखाने के लिये बना रखी थी फर्जी वैबसाईट

जबलपुर। इँदिरा गाँधी एज्युकेशन सँस्थान जबलपुर के एडवरटाईजमेन्ट पम्पलेट, बोर्ड ऑफ हायर सेकण्डरी एज्युकेशन दिल्ली के एग्जामिनेशन फॉर्म, भारतीय विधालय शिक्षा संस्थान की 10वीं तथा 12 वीं की अँकसूची , माहत्मा गाँधी काशी विद्यापीठ वाराणासी उत्तरप्रदेश की बी.कॉम. की फर्जी अंकसूची, इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट की अंकसूची, सर्टिफकेट तथा बीएएमएस की डिग्री, महात्मा गांधी विधापीठ वाराणसी उत्तर प्रदेश की बी.काम. की प्रथम वर्ष तथा द्वितीय वर्ष की अंकसूची, फर्जी प्रवेश फार्म।

अंकुर डागौर ने शिकायत की कि  शारदा चैक रिलाईंस पेट्रोल पंप के सामने इंदिरा गांधी शिक्षण संस्थान मे फर्जी अंकसूची बनाकर विधार्थियो के भविष्य के साथ खिलवाड किया जा रहा है । शिकायत को  गम्भीरता से लेते हुये पुलिस अधीक्षक जबलपुर श्री सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.) द्वारा  पतासाजी कर आरोपियों की शीघ्र गिरफ्तारी हेतु आदेशित किये जाने पर अति. पुलिस अधीक्षक शहर दक्षिण/अपराध श्री गोपाल प्रसाद खाण्डेल एवं  नगर पुलिस अधीक्षक गढा श्री रोहित काशवानी (भा.पु.से.) के मार्ग निर्देशन में थाना प्रभारी  गढा श्री राकेश तिवारी के नेतृत्व में थाना गढा पुलिस एवं क्राईम ब्रांच की टीम गठित कर लगायी गयी।

प्राप्त शिकायत के आधार पर सरगर्मी से तलाश करते हुये गठित टीम के द्वारा प्रेम कुमार पवार पिता धनराज पवार उम्र 52 वर्ष निवासी भारत कॉलोनी थाना गढा  को उसके घर भारत कालोनी गढा से अभिरक्षा मे लेकर शारदा चैक स्थित रिलाईंस पेट्रोल पंप के सामने इंदिरा गांधी शिक्षण संस्थान पर दबिश दी गई जहां से इँदिरा गाँधी एज्युकेशन सँस्थान जबलपुर के एडवरटाईजमेन्ट पम्पलेट, बोर्ड ऑफ हायर सेकण्डरी एज्युकेशन दिल्ली के एग्जामिनेशन फॉर्म, भारतीय विधालय शिक्षा संस्थान की 10वी तथा 12वी की अँकसूची जप्त कर कब्जा पुलिस मे लिया गया एवं सघन पूछताछ करते हुये फर्जी अंक सूची के गोरखधंधे मे लिप्त अन्य आरोपी  सँजय यादव पिता राजकुमार यादव उम्र 55 साल निवासी त्रिमुर्ती स्कुल के पास थाना विजय नगर को उसके घर से अभिरक्षा मे लेकर स्वराज सीनीयर सेकेन्ड्री स्कूल गढा कछपुरा थाना लार्डगंज से इंदिरा गांधी राष्ट्रीय महाविधालय के प्रवेश फार्म, एडवरटाईसमेन्ट पर्चे , विधार्थियों की जानकारियों के रजिस्टर, जप्त कर करते हुये प्रकरण के अन्य पीडित अरविन्द कुमार की शिकायत पर अजय विश्वकर्मा पिता श्याम सागर विश्वकर्मा उम्र 40 वर्ष  निवासी बी.टी.कम्पाऊण्ड पोस्ट ऑफिस के पास थाना मदन महल जबलपुर से बी.ए.एम.एस की फर्जी डिग्री फर्जी सर्टिफिकेट तथा फर्जी अंकसूची जप्त कर जप्त की गयी। पकडे गये  आरोपियों के विरूद्ध थाना गढा में अपराध क्रमंाक 558/2020 धारा 420, 465, 467, 468, 120 बी,  भादवि का अपराध पंजीबद्ध कर प्रकरण विवेचना में लिया गया है।  

तरीका अपराध- परीक्षा मे अनुर्तीण हुये परेशान विधार्थियों को भरोसे मे लेकर उनसे 20 से 30 हजार रूपये लेकर  प्रवेश फार्म भरवाकर  बगैर किसी परीक्षा के विधार्थियों के साथ  धोखाधडी कर, कूटरचित   फर्जी मार्कशीट बनाकर दे देते थे ।  पकडे गये आरोपी इतने शातिर है कि इन्होंने फर्जी वैबसाईट बना रखी थी उक्त वेब साईट मे सर्च करने पर  दी हुई फर्जी मार्कशीट आॅनलाईन दिखती थी, ।

उल्लेखनीय भूमिका –  आरोपियो की पतासाजी कर गिरफ्तारी मे थाना प्रभारी थाना गढा श्री राकेश कुमार तिवारी, उप निरीक्षक विनय बुन्देला, आरक्षक विवेक तिवारी, शिवेन्द्र तिवारी तथा क्राईम ब्रांच के प्रधान आरक्षक धनंजय सिंह , विजय शुक्ला, आरक्षक ब्रजेन्द्र कसाना, बीरबल, मोहित उपाध्याय, नीरज तिवारी, अमित श्रीवास्तव, दीपक तिवारी की सराहनीय भूमिका रही । पुलिस अधीक्षक जबलपुर सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.) द्वारा टीम को नगद पुरूस्कार से पुरूस्कृत करने की घोषणा की गई  है।