सभी प्रत्याशियों को 9 जनवरी तक जमा कराना होगा व्यय का लेखा-जोखा

इस ख़बर को शेयर करें:

श्योपुर @ लोक प्रतिनिधितत्व अधिनियम 1951 के अनुसार निर्वाचन प्रक्रिया मे सम्मिलित होने वाले प्रत्येक प्रत्याशी को मतगणना तिथि (11 दिसंबर 2018) से 30 दिवस (09.01.2019) के भीतर अपना व्यय लेखा रजिस्टर, व्हाउचर्स, निर्वाचन का सारा विवरण एवं अन्य आवश्यक जानकारियां जिला निर्वाचन अधिकारी को प्रस्तुत करना अनिवार्य है।

उप जिला निर्वाचन अधिकारी एवं अपर कलेक्टर राजेन्द्र राय ने बताया कि नियुक्त सहायक व्यय प्रेक्षकों द्वारा दिनांक 30 दिसंबर से प्रत्याशियों का निर्वाचन व्यय लेखा जमा होने तक संबंधित विधानसभा के रिटर्निंग ऑफिसर कार्यालय पर बैठते हुए प्रत्याशियों के निर्वाचन व्यय लेखा का परीक्षण किया जायेगा तथा अंतिम व्यय लेखा रिकॉर्ड तैयार एवं जमा कराये जाने संबंधी कार्यवाही की जायेगी। निर्धरित दिनांक 09.01.2019 तक निर्वाचन व्यय लेखा दाखिल नहीं करने वाले अभ्यार्थियों के विरूद्ध लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम 1951 के तहत वैधानिक कार्यवाही प्रस्तावित की जायेगी।

निर्वाचन व्यय लेखा दाखिल नहीं करने पर अभ्यर्थी को आगामी वर्षों के लिए किसी भी निर्वाचन प्रक्रिया में सम्मिलित होने से प्रतिबंधित किया जा सकता है। नोडल अधिकारी, निर्वाचन व्यय लेखा, निर्वाचन व्यय लेखा तैयार करने में आने वाली किसी भी कठिनाई एवं समस्या के समाधान हेतु संबंधित विधानसभा के सहायक व्यय प्रेक्षक अथवा व्यय टीम से संपर्क कर सकते हैं।