कृषि कानून में संशोधन किसानों के लिए यह घातक रहेगा : सचिन पायलट

इस ख़बर को शेयर करें:

शिवपुरी। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और राजस्थान के पूर्व उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट ने कहा है कि केंद्र की मोदी सरकार द्वारा कृषि संशोधन बिल में जो संशोधन किया गया हैस वह किसानों के ऊपर घातक प्रहार है। मंडी बंद, हाट बंद, मजदूरी बंद, समर्थन मूल्य बंद हो जाएगा तो यह किसानों के लिए यह घातक रहेगा।

कांग्रेस नेता सचिन पायलट ने यह बात मंगलवार को शिवपुरी जिले की नरवर और सतनवाड़ा में अलग-अलग आमसभाओं में कही। उन्होंने जिले के पोहरी और करैरा विधानसभा सीट के लिए हो रहे उपचुनाव के लिए यहां पर कांग्रेस प्रत्याशियों के पक्ष में वोट मांगे।

इस दौरान सतनवाड़ा में एक आमसभा में कांग्रेस नेता सचिन पायलट ने भाजपा को निशाने पर लेते हुए कहा कि मप्र में शिवराज सरकार पिछले दरवाजे से सरकार में आ गई है लेकिन लोकतंत्र में आखिर में जनता के पास ही वोट मांगने के लिए नेता को आना पड़ता है। लोकतंत्र में जनता जनार्धन होती है।

इसलिए इस विधानसभा उपचुनाव में जनता सोच समझकर निर्णय करे और देश को विभाजित करने वाली ताकतों को परस्त करें। उन्होंने कांग्रेस के पक्ष में वोट देने की अपील करते हुए कहा कि यही पार्टी है जो देश की आजादी के पहले से जनहित व देशहित में काम कर रही है।

भाजपा को निशाने पर लेते हुए सचिन पायलट ने कहा कि दो साल पहले 2 अप्रैल को जो घटना घटित हुई थी वह एक सोच का प्रतीक था कि संविधान व सांसद के बाहर जो ऐसी ताकतें हैं वह गरीब से उससे उसके अधिकार छीनने की ताकत रखते हैं। यह ताकत नागपुर से आती है जो लोगों से सरकार को कठपुतली बनाकर रखना चाहती है। ऐसी सोच वाली सरकारों को उखाड़ना है। इस मौके पर आमसभा में कांग्रेस के जिला पदाधिकारी व अन्य लोग यहां पर मौजूद रहे।