राम मंदिर भूमि पूजन के समय पूरे अमेरिका में आयोजित होगा यह खास कार्यक्रम
इस ख़बर को शेयर करें

वाशिंगटन: राम मंदिर भूमि पूजन (Ram Mandir Bhoomi Poojan) की तारीख अब नजदीक ही आ गई है और भारत सहित विश्वभर में फैल भारतीयों को इस पल का बेसब्री से इंतजार है. पांच अगस्त को पीएम नरेंद्र मोदी के हाथों से अयोध्या में राम मंदिर भूमि पूजन किया जाएगा. जिस समय पीएम भूमि पूजन करेंगे उस समय भारत ही नहीं बल्की पूरे अमेरिका (America) में हर्षोल्लास के साथ पार्थना की जाएगी. अयोध्या (Ayodhya) में राम मंदिर निर्माण के लिए होने वाले भूमि पूजन के अवसर पर उत्तर अमेरिका (North America) के हिंदू मंदिरों में ऑनलाइन राष्ट्रीय प्रार्थना का आयोजन किया जाएगा. धार्मिक समूहों ने यह जानकारी दी.

हिंदू मंदिर एग्जिक्यूटिव्ज कॉन्फ्रेंस (एचएमईसी) और हिंदू मंदिर प्रीस्ट्स कॉन्फ्रेंस (एचएमपीसी) ने शुक्रवार को एक वक्तव्य जारी कर अयोध्या में होने वाले ‘‘श्री राम मंदिर भूमि पूजन’’ के अवसर पर पूरे अमेरिका में एक साथ राष्ट्रीय प्रार्थना करने का आह्वान किया. इसमें कहा गया कि इस शुभ अवसर पर अमेरिका, कनाडा और कैरिबियाई द्वीपों के मंदिर भूमि पूजन की पूर्व संध्या पर भगवान राम के ‘चरणकमल’ में सेवा देंगे.

कैलिफोर्निया के बे इलाके में शिव दुर्गा मंदिर के संस्थापक, अध्यक्ष एवं आचार्य पंडित कृष्ण कुमार पांडेय ने कहा, ‘‘वैश्विक हिंदू समुदाय के लिए पांच अगस्त 2020 का ऐतिहासिक समारोह नए युग की शुरुआत है. हमें इस दिन को अब से एक त्योहार के रूप में मनाना चाहिए.’’

अमेरिका में विश्व हिंदू परिषद ने कहा कि पांच अगस्त को जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अयोध्या में मंदिर की आधारशिला रखेंगे तब उस अवसर पर प्रार्थनाओं का आयोजन किया जाएगा. उत्तर अमेरिका में सामूहिक मंत्रोच्चारण होगा, जिसके बाद अनूप जलोटा और संजीवनी भेलांडे का भजन सुना जाएगा.