अन्र्तराज्य चैक पोस्ट कुल्हाल गेट का निरीक्षण करते जिला निर्वाचन अधिकारी एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक

देहरादून: जिलाधिकारी/जिला निर्वाचन अधिकारी रविनाथ रमन एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक/नोडल अधिकारी कानून व्यवस्था स्वीटी अग्रवाल द्वारा संयुक्त रूप से अन्र्तराज्य चैक पोस्ट कुल्हाल गेट का निरीक्षण किया गया तत्पश्चात तहसील विकासनगर में जोनल तथा सैक्टर मजिस्ट्रेट एवं स्थैतिक निगरानी टीमों, फ्लाईगं स्क्वाड टीमों तथा वीडियो सर्विलांस टीमों को ब्रीफ किया गया साथ ही राजनैतिक दलों के प्रत्यासी/ उनके प्रतिनिधियों की समस्या/शिकायत सुनकर आवश्यक दिशा निर्देश दिये।

जिलाधिकारी/जिला निर्वाचन अधिकारी ने अन्र्तराज्य बाॅर्डर कुल्हाल गेट पर तैनात विभिन्न टीमों को निर्देश दिये कि आने वाली प्रत्येक वाहन का दिन -रात्री के समय शतप्रतिशत बारीकी से निरीक्षण करने तथा छोटे वाहनों की डिग्गियों तथा संदिग्ध स्थानों की भी गहनता से जांच करने के निर्देश दिये। उन्होने रिर्टनिग अधिकारी विकासनगर को विभिन्न चैकिग पोस्टों पर तैनात टीमों के ड्यूटी तैनाती पर जाने तथा बदलने वाले समय तथा टीमों के नाम के साथ ही प्रवेश करने वाली वाहनों के नम्बर भी पंजिका में दर्ज करने के निर्देश दिये।

जिला निर्वाचन अधिकारी ने निर्वाचन को निष्पक्ष तरीके से सम्पादित करने में लगी विभिन्न स्थैतिक निगरानी टीमों, फ्लाईगं स्वाइट टीमों तथा वीडियो सर्विलांस टीमों को ब्रीफ करते हुए कहा कि केवल पहले से निर्धारित सूचना के तहत ही काम न करके विभिन्न माध्यमों ( मीडिया, स्थानीय निकायों/पंचायतो के जनप्रतिनिधि तथा आम जनमानस) की सूचना के आधार पर भी औचक निरीक्षण करके अवैध शराब, धन, हथियार तथा अन्य ऐसे अवैध सामग्री/गतिविधियंा जिससे चुनाव प्रक्रिया प्रभवित की जा सकती है उसको रोकने के निर्देश दिये।

उन्होने सभी टीमों को विभिन्न माध्यमों/चैनल के माध्यम से अपने मोबाईल नम्बरों के द्वारा अपने सूचना नेटवर्क को मजबूत करते हुए कार्य करने के निर्देश दिये एवं उन्होने जोनल तथा सेक्टर मजिस्ट्रेटों को एक बार पुनः प्रत्येक बूथ का निरीक्षण करके सभी आवश्यक मूलभूत व्यवस्थाओं (वलनरेबलिटी, विद्युत, पेयजल, रैम्प, भवन की स्थित, ऐसे बूथ जहां 90 प्रतिशत का मतदान हुआ है तथा जहां पर किसी एक ही प्रत्यासी के पक्ष में अधिक मतदान हुए है एवं अन्य सम्भावित बाधाओं) को जांच कर इन सभी की रिपोर्ट अनिवार्य रूप् से 5 फरवरी तक आरों को देने के निर्देश दिये। उन्होने विभिन्न राजनैतिक प्रत्यासी तथा उनके प्रतिनिधियों द्वारा की गई विभिन्न परेशानियों/समस्याओं को सुनते हुए पूर्ण आश्वासन दिया कि किसी को रैली का समय, क्षेत्र तथा उसमें सम्मलित होने वाले व्यक्तियों की सूचना एवं अन्य गतिविधियों की अनुमति के लिए 24 घटे पूर्व आरों को सूचित करना अनिवार्य होगी उसी के आधार पर उन्हे अनुमति प्रदान की जायेगी ।

उन्होने सभी से अपेक्षा की कि आदर्श आचार संहिता का पालन करते हुए कोई भी ऐसे कार्य न करें जिससे किसी प्रत्यासी के विरूद्व आवश्यक कार्यवाही करनी पडे। उन्होने कहा कि कोई भी प्रत्यासी निर्वाचन आयोग द्वारा जारी किये गये ऐप-सुगम के माध्यम से वाहन की तथा सुविधा के माध्यम से रैली के लिए आॅन लाईन आवेदन कर सकते है तथा निर्वाचन से सम्बन्धित किसी भी शिकायत अथवा समस्या को जिला निर्वाचन कार्यालय के कट्रोल रूम के टोल फ्री नम्बर 0135-1950 तथा कन्ट्रोल रूम के दूरभाष नम्बर 0135-2722045 पर दर्ज करा सकते है जिस पर अनिवार्य रूप से सुनवाई करते हुए उचित कार्यवाही की जायेगी।

इस अवसर पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक स्वीटी अग्रवाल ने कानून व्यवस्था की समीक्षा करते हुए एफएसटी स्थैतिक निगरानी टीमों, एसएसटी तथा बी.एसटी टामों को ब्रीफ करते हुए निर्देश दिये कि सभी अधिकारी आपस में उचित समन्वय बनाते हुए आर्दश आचार संहिता का कडाई से अनुपालन कराना सुनिश्चित करे। उन्होने प्रत्येक मतदान केन्द्र के 200 मीटर परिधी के अन्दर निवासरत सभी व्यक्तियों का डोर टू डोर सत्यापन करने तथा किसी भी संदिग्ध गतिविधि की रोकथाम करते हुए कार्य करने के निर्देश दिये।

उन्होने 200 मीटर क्षेत्र के अन्तर्गत किसी भी प्रकार की निर्माण सामग्री होने की दशा में उसे तुरन्त हटानें के निर्देश दिये तथा चैकिगं करने के तरीकों में समय-समय पर आवश्यक बदलाव करने के निर्देश दिये। उन्होने अन्तर्राज्य बाॅर्डर पर गुजरने वाले वाहनों तथा यमुना नदी के रास्ते गुजरने वाले संदिग्धों पर नजर रखते हुए शराब, धन, हथियार इत्यादि पर अंकुश लगाने के निर्देश दिये। उन्होने यह भी निर्देश दिये कि चैकिगं के दौरान किसी भ्ी व्यक्ति को अनावश्यक परेशान न करंे तथा संदेह होने पर विवेकतापूर्वक आवश्यक तलाशी/ कार्यवाही करने के निर्देश दिये।

इस अवसर पर व्यय पर्यवेक्षक हेमन्त मीणा, आई.पी.एस. निहारीका भट्ट, पुलिस अधीक्षक ग्रामीण श्वेता चैबे, उपजिलाधिकारी विकासनगर जितेन्द्र कुमार, आरों सहसपुर आर.एस. नेगी, विभिन्न जोनल, सैक्टर मजिसट्रेट तथा विभिन्न निगरानी टीमों केे अधिकारी सहित राजनैतिक दलों के प्रतिनिधि उपस्थित थे।