कड़ाके की ठंड से बचने के लिए किए जाएं इंतजाम

प्रयागराज: शीतलहर से बचाव के इंतजाम को लेकर बृहस्पतिवार को हुई बैठक में मंडलायुक्त डॉ.आशीष कुमार गोयल ने यह आदेश दिया। ठंड से किसी की मौत या कोई हादसा हुआ तो इसके लिए डीएम सीधे तौर पर जिम्मेदार होंगे। शीतलहर से बचाव के इंतजाम को लेकर बृहस्पतिवार को हुई बैठक में मंडलायुक्त डॉ.आशीष कुमार गोयल ने यह आदेश दिया। उन्होंने रैन बसेरा, अलाव, कंबल वितरण आदि योजनाओं की समीक्षा भी की।प्रदेश में ठंड बढ़ने लगी है। इसके मद्देनजर मंडलायुक्त की अध्यक्षता में बैठक हुई। उन्होंने सार्वजनिक स्थलों पर अलाव जलाने, कमजोर वर्ग के लोगों को चिह्नित करने, कंबल वितरण आदि के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि ठंड या शीतलहरी के कारण किसी की मृत्यु न हो।गरीबों को भोजन, वस्त्र, आश्रय एवं चिकित्सा का भी अभाव न हो। यदि कोई अप्रिय घटना होती है तो इसके लिए डीएम सीधे उत्तरदाई होंगे। उन्होंने ऐसी घटना की जांच न्यूनतम अपर जिलाधिकारी स्तर के अधिकारी से कराने का निर्देश दिया। दुर्घटना बाहुल्य क्षेत्रों में सफेद थर्मोप्लास्टिक पेंट से पट्टियां दर्शाने, रिफ्लेक्टर, सोलरकैट साईन आदि लगाने का निर्देश दिया। ग्रामीण क्षेत्रों में ट्रैक्टर ट्रालियों के पीछे रेडियम की पीली पट्टी लगाने के लिए अभियान चलाने का निर्देश दिया। बैठक में डीएम तथा अन्य अफसर मौजूद रहे।[ ब्यूरो रिपोर्ट प्रयागराज]