स्वाईन फ्लू से बचाव के लिए इन तरीकों को अपनाएं

स्वाईन फ्लू के देश भर में अब तक पन्द्रह हजार से अधिक मामले सामने आ चुके हैं

स्वाईन फ्लू के देश भर में अब तक पन्द्रह हजार से अधिक मामले सामने आ चुके हैं। स्वाईन फ्लू अब हर मौसम में हो रहा है। क्या है इसका लक्षण और कैसे बचें इससे आईए जानते हैं- संक्रामक बीमारी स्वाईन फ्लू के मरीजों की तादात दिन-ब-दिन बढ़ती ही जा रही है। स्वास्थ्य मंत्रालय के आकड़ो के मुताबिक देश भर में अबतक पन्द्रह हजार लोग स्वाईन फ्लू की चपेट मे आ चुके है और 736 लोगों की मौत हो चुकी है।

स्वाईन फ्लू से बचाव के लिए जरूरी है जागरुकता। इसके लिए जरूरी है आप सबसे पहले स्वाईन फ्लू के लक्षणों को जानें।

स्वाईन फ्लू के लक्षण निम्नलिखित हैं:-

बुखार, खांसी, गले में दर्द
नाक का बहना, शरीर में दर्द
थकावट
एक दूसरे के संपर्क में आने से होता है
स्वाईन फ्लू से से सबसे ज्यादा खतरा छोटे बच्चे, बुजुर्ग,जिनको छाती में संक्रमण, अस्थमा, डायबिटीज, किडनी के मरीज, दिल के मरीजों को होती है।

अब आइए जानें कि स्वाईन फ्लू से बचाव कैसे किया जा सकता है-
संक्रमित व्यक्ति के सीधे संपर्क में आने से बचें
खांसते छीकते वक्त मुंह पर रुमाल रखें
हाथ को साबुन से धोएं
जब कोई लक्षण दिखें तो डॉक्टर को दिखाएं

सरकार ने स्वाईन फ्लू के खिलाफ कदम उठाते हुए इस बीमारी की दवा को एच 1 कैटेगरी में कर दिया है। इसका मतलब ये है कि अब दवाई के दुकानों पर भी स्वाईन फ्लू की दवा मिल जाएगी लेकिन इसके लिए डॉक्टर की पर्ची जरुरी होगी।