अयोध्या: महंत नृत्यगोपाल दास के जन्मोत्सव पर आज से संतों का मेला

राम जन्म भूमि न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्यगोपाल दास के 80वें जन्मोत्सव की शुरुआत आज से हो चुकी हैं. 18 जून से 26 जून तक चलने वाले इस जन्मोत्सव में देश विदेश से करीब पांच हजार संत-धर्माचार्यों एवं भक्तों का जमावड़ा लगेगा. इतना ही नहीं प्रदेश के मुखिया योगी आदित्यनाथ भी इसमें शामिल होंगे.

सीएम योगी सहित डिप्टी सीएम भी होंगे शामिल:
आज से अयोध्या में प्रसिद्ध राम जन्म भूमि के न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्यगोपाल दास के 80वें जन्मोत्सव की शुरुआत हो रही हैं. 26 जून तक चलने वाले उत्सव में देशभर के संत धर्माचार्यों सहित भक्त शामिल हो रहे हैं.

आज जन्मोत्सव की शुरुआत भव्य शोभा यात्रा निकाल कर की गयी. समारोह का उद्घाटन भानुपुरा पीठाधीश्वर जगद्गुरु शंकराचार्य स्वामी दिव्यानंद करने वाले हैं. जन्मोत्सव के आखिरी 2 दिनों यानी 25 व 26 जून को विराट संत सम्मेलन का आयोजन किया गया है। संत सम्मेलन में 25 जून को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ तो 26 जून को डिप्टी सीएमकेशव प्रसाद मौर्य व डॉ. दिनेश शर्मा मौजूद रहेंगे। संत सम्मेलन में राममंदिर सहित राष्ट्रहित से जुड़े तमाम विषयों पर चर्चा होगी।

आज का कार्यक्रम:
आज समारोह के उद्घाटन के दौरान भानुपुरा पीठाधीश्वर जगद्गुरु शंकराचार्य स्वामी दिव्यानंद के अलावा अखिल भारतीय आचार्य सभा के अध्यक्ष स्वामी परमात्मानंद, गीता मनीषी स्वामी ज्ञानानंद विशेष रूप से उपिस्थत रहेंगे। मणिरामदास छावनी के उत्तराधिकारी महंत कमलनयन दास जन्मोत्सव कार्यक्रम के संयोजक हैं. आज 9 बजे मणिरामदास छावनी से विशाल शोभायात्रा निकाली जाएगी। अपराह्न तीन बजे स्वामी दिव्यानंद महोत्सव का उद्घाटन करेंगे। प्रतिदिन कथाव्यास श्रीकृष्णचंद्र ठाकुर श्रीमद्भागवत कथा सुनाएंगे।

शामिल होंगे कई बड़े चेहरे:
25 जून को संत सम्मेलन का उद्घाटन मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ करेंगे। साथ ही मध्यप्रदेश सरकार के उच्चशिक्षा मंत्री कुंवर जयभानु सिंह पवैया सरकार का प्रतिनिधित्व करेंगे। इस दिन ज.गु. श्रीरामानंदाचार्य स्वामी हंसदेवाचार्य, स्वामी ज्ञानदेव सिंह, युगपुरुष स्वामी परमानंद, साध्वी ऋतम्भरा, महंत अखिलेश्वरदास, ज.गु.शंकराचार्य नरेंद्रानंद सरस्वती समेत अन्य मौजूद रहेंगे। 26 जून को उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, डॉ. दिनेश शर्मा तथा विहिप उपाध्यक्ष चंपतराय सहित देश के प्रमुख संत-धर्माचार्य शामिल होंगे।