डीएलसीसी की बैठक में स्ट्रीट वेंडर योजना के शेष  स्वीकृत, प्रकरणों में भी  एक सप्ताह के भीतर ऋण वितरण के निर्देश

इस ख़बर को शेयर करें:

जबलपुर। जिला साख समन्वय समिति की आज शाम कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में सम्पन्न हुई बैठक में शासन द्वारा प्रायोजित स्वरोजगार ऋण योजनाओं के तहत भेजे गये प्रकरणों को स्वीकृत करने तथा हितग्राहियों को ऋण वितरण करने की प्रक्रिया में तत्परता बरतने के निर्देश बैंक अधिकारियों को दिये गये हैं ।

जिला पंचायत के सीईओ प्रियंक मिश्रा  की अध्यक्षता में आयोजित इस बैठक में पथ विक्रेताओं के लिये शहरी क्षेत्र में संचालित प्रधानमंत्री स्वनिधी योजना तथा ग्रामीण क्षेत्र में संचालित की जा रही मुख्यमंत्री स्ट्रीट वेंडर योजना के शेष बचे सभी स्वीकृत प्रकरणों में भी एक सप्ताह के भीतर हितग्राहियों को ऋण वितरण के निर्देश बैंकर्स को दिये गये हैं ।

सीईओ जिला पंचायत ने बैठक में मौजूद बैंक अधिकारियों से कहा कि शासन की सर्वोच्च प्राथमिकता वाली इन दोनों योजनाओं के तहत कैम्प लगाकर हितग्राहियों को ऋण का वितरण किया जाये । उन्होंने महिला स्व-सहायता समूहों के क्रेडिट लिंकेज के प्रकरणों में भी त्वरित कार्यवाही के निर्देश बैंकर्स दिये । श्री मिश्रा ने कहा कि पशुपालकों को केसीसी जारी करने के कार्य में भी बैंक अधिकारियों को गति लानी होगी ।

बैठक में बैंक अधिकरियों को आत्मनिर्भर भारत योजना के तहत केंद्र शासन द्वारा प्रारम्भ की गई एग्री इंफ्रास्ट्रक्चर फण्ड योजना के बारे में भी विस्तार से जानकारी दी गई । बैंकर्स को कहा गया है कि इस योजना के तहत एग्रो प्रोसेसिंग एवं फूड प्रोसेसिंग इकाई स्थापित करने के प्राप्त प्रस्तावों पर ऋण वितरण को प्राथमिकता देने के निर्देश दिये गये । बैठक में नगर निगम आयुक्त अनूप कुमार, जिला उद्योग केंद्र के महाप्रबंधक देवव्रत मिश्रा, लीड बैंक अधिकारी संजय सिन्हा, परियोजना अधिकारी शहरी विकास अभिकरण दिनेश त्रिपाठी आदि मौजूद थे ।