मुजफ्फरनगर : वैक्सीन बने, इसलिए 8 साल की बच्ची ने तोड़ा गुल्लक

मुजफ्फरनगर। कोरोनावायरस महामारी को रोकने के लिए जहां नेता-अभिनेता व बड़े व्यापारी प्रधानमंत्री राहत कोष में दान दे रहे हैं, वहीं अब दिशा में आम लोगों के कदम भी बढ़ने लगे हैं। मुजफ्फरनगर की रहने वाली आठ वर्षीय अर्निका रविवार को डीएम कार्यालय पहुंची। उसने अपने गुल्लक में 3 साल से पैसे जमा किए थे। सुबह उसने गुल्लक तोड़ दिया। उसमें से 11 सौ रुपए निकले। इसके बाद उसने डीएम कार्यालय पहुंचकर इस राशि को आपदा राहत कोष में जमा कर दिया। अर्निका का कहना है कि, हमारे देश में बहुत भयानक कोरोना बीमारी फैली हुई है, इसलिए मैंने गुल्लक में जमा किए गए पैसे प्रधान मंत्री राहत कोष में जमा करा रही हूं, ताकि कोरोना वायरस वैक्सीन बनाई जा सके।