बलिया से BJP विधायक सुरेंद्र सिंह का विवादित बयान, ‘संस्‍कार से बलात्‍कार रुक सकता है, शासन और तलवार से नहीं’
इस ख़बर को शेयर करें

बलिया : उत्तर प्रदेश के हाथरस (Hathras) में कथित गैंगरेप और मर्डर पर जारी घमासान के बीच बलिया से भारतीय जनता पार्टी (BJP) के विधायक सुरेंद्र सिंह (Surendra Singh) ने एक बार फिर विवादित बयान दिया है. हाथरस की घटना की पृष्ठभूमि में BJP विधायक के दिये बयान से विवाद खड़ा हो गया है. विधायक सुरेंद्र सिंह ने कहा कि ‘संस्‍कार से बलात्‍कार रुक सकता है, शासन और तलवार से नहीं.’ सुरेंद्र सिंह के इस बयान की कांग्रेस ने निंदा की है.

विधायक सुरेंद्र सिंह ने अपने बयान में कहा, ‘माता-पिता अपनी जवान बेटी को सांस्कारिक वातावरण में रहने का तरीका सिखायें. यह सबका धर्मा है, मेरा भी धर्म है सरकार का भी धर्म है और परिवार का भी धर्म है. जहां सरकार का धर्म रक्षा करने का है वहीं परिवार का भी धर्म है कि बच्चों में संस्कार डाले. सरकार और संस्कार मिलकर देश को सुंदर रूप दे सकते हैं. दूसरा कोई सामने आने वाला नहीं है.’ हाथरस में दुष्कर्म नहीं हुआ था, इसकी पुष्टि लैब व पोस्टमार्टम रिपोर्ट से हो गई है.’

उत्‍तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने देर रात ट्वीट कर कहा, ‘भाजपा और आरएसएस की ऐसी घटिया सोच के चलते ही उत्तर प्रदेश बेटियों के लिए सबसे असुरक्षित स्‍थान बन चुका है. बलात्‍कारी मानसिकता को बल देने वाले ऐसे नेताओं का सामाजिक बहिष्‍कार होना चाहिए.’

बता दें कि सुरेंद्र सिंह अपने विवादित बयानों के लिए मशहूर हैं. बीते साल सुरेंद्र सिंह ने कहा था कि मुस्लिम कई पत्नियां रखते हैं और उनके बच्चे जानवर प्रवृत्ति के होते हैं. इतना ही नहीं, वे डॉक्टरों को ‘राक्षस’ और पत्रकारों को ‘दलाल’ बोल चुके हैं. हिंदू धर्म बचाने के लिए विधायक ने हिंदुओं से अधिक बच्चे पैदा करने का आग्रह भी कर चुके हैं. हालांकि, भाजपा लगातार उनके बयानों को नजरअंदाज करती आई है.