भाजपा ने त्रिपुरा का विकास करने का किया वादा

भाजपा ने त्रिपुरा में आगामी विधानसभा चुनाव के लिए जारी किया दृष्टिपत्र, भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह ने राज्य में किया एक मेगा रोड शो। कहा, भाजपा त्रिपुरा में हिंसा की राजनीति को विकास की राजनीति में बदलना चाहती है।

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने लोगों से त्रिपुरा में सत्तारूढ ‘लाल भाई’ की सरकार उखाड़ फेंकने की अपील की। उन्होंने वाम दल के कार्यकर्ताओं पर विकास के लिये धन की लूट करने का आरोप लगाया। भाजपा के पक्ष में लोगों से मतदान करने की अपील करते हुए शाह ने दावा किया कि राज्य में अगर उनकी पार्टी सत्ता में आती है तो यह सूबा एक आदर्श राज्य बनेगा ।

त्रिपुरा में बिना किसी रुकावट के 25 साल से सत्तासीन वामदल को भाजपा मजबूत चुनौती पेश कर रही है। शाह ने आठ किलोमीटर का रोड शो किया और रैलियों को संबोधित किया जिसमें उन्होंने सूबे की जनता से प्रदेश में ‘‘परिवर्तन’’ के लिए मतदान करने की अपील की ।

अगले रविवार को होने वाले मतदान से पहले शाह ने राज्य के विभिन्न वर्ग के लोगों से कई वादे किये । इनमें युवाओं को स्मार्टफोन देने, सरकार बनाने के दूसरे दिन सरकारी कर्मचारियों के लिए सातवें वेतन आयोग की सिफारिशें लागू करने और चिटफंड घोटाले के आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई करने का वादा शामिल है ।

राहुल गांधी का नाम लिये बगैर शाह ने आरोप लगाया कि कांग्रेस प्रमुख ने इन चुनावों में वोटकटवा उम्मीदवार उतारा है ताकि मुख्यमंत्री माणिक सरकार की अगुवाई वाली माकपा सरकार को दोबारा सत्ता में आने में मदद मिल सके । पिछले विधानसभा चुनाव तक कांग्रेस की स्थिति मुख्य विपक्षी दल की थी लेकिन बाद में पार्टी की स्थिति में जबरदस्त ह्रास हुआ क्योंकि विधायकों सहित इसके कई नेताओं ने भाजपा का दामन थाम लिया ।

शाह ने एक रैली में कहा, ‘‘लाल भाई की सरकार और इसके कार्यकर्ताओं ने राज्य को विकास के नाम पर 25 वर्षों तक लूटा…. भाजपा की सरकार आनी है । यह केवल विधायकों अथवा सरकार का बदलाव नहीं बल्कि राज्य में परिवर्तन लेकर आएगा ।’’ उन्होंने कहा कि गरीबों के नाम पर वाम दल की सरकार बनी थी लेकिन पिछले 25 वर्षों में यहां गरीबी बढ़ी है और इस अवधि में बेरोजगार युवाओं की संख्या 25 हजार से बढ़ कर सात लाख 33 हजार तक पहुंच गयी है ।

भाजपा अध्यक्ष ने दावा किया कि भाजपा सरकार प्रत्येक घर में एक नौकरी देगी । मुख्यमंत्री माणिक सरकार ने आरोप लगाए थे कि केंद्र ने राज्य के लिए कुछ नहीं किया, इस पर भाजपा प्रमुख ने केंद्र सरकार की कई योजनाओं का हवाला देते हुए कहा कि 14 वें वित्त आयोग के तहत त्रिपुरा को 25,396 करोड़ रूपये जारी किये गए हैं ।

‘‘चलो पलटिये’’ (सरकार बदलने) का नारा बुलंद करते हुए शाह ने माकपा सरकार को सत्ता से हटाने की अपील लोगों से की । भारतीय जनता पार्टी त्रिपुरा में 51 सीटों पर चुनाव लड़ रही है जबकि सहयोगी इंडिजीनस पीपुल्स फ्रंट ऑफ त्रिपुरा ने नौ सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे हैं।