जिले में स्कूल-कालेजों से लेकर ग्राम पंचायतों तक होंगे अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के कार्यक्रम
जबलपुर |  जिले में 21 जून को सभी हाई स्कूलों-हायर सेकेण्डरी स्कूलों, महाविद्यालयों तथा नगरीय निकायों से लेकर ग्राम पंचायत स्तर तक अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के कार्यक्रम आयोजित किये जायेंगे।  इन कार्यक्रमों में समाज के सभी वर्गों की भागीदारी अर्जित की जायेगी। अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के इन कार्यक्रमों का व्यापक प्रचार-प्रसार किया जायेगा और इनमें जनप्रतिनिधियों तथा समाज के प्रतिष्ठित नागरिकों को भी आमंत्रित किया जायेगा। 
   यह जानकारी आज कलेक्टर महेशचन्द्र चौधरी की अध्यक्षता में कलेक्टर कार्यालय के सभाकक्ष में अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस की तैयारियों पर चर्चा के लिए आयोजित बैठक में दी गई। बैठक में पुलिस अधीक्षक डॉ. आशीष, वनमण्डलाधिकारी विन्सेण्ट रहीम, जिला पंचायत सीईओ हर्षिका सिंह, अपर कलेक्टर छोटे सिंह, नगर निगम, छावनी परिषद्, शिक्षा विभाग के अधिकारियों एवं शैक्षणिक संस्थाओं के प्राचार्य मौजूद थे। 
   कलेक्टर ने अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के वृहद आयोजन के लिए कार्ययोजना तैयार करने के निर्देश बैठक में दिये।  उन्होंने कहा कि समाज के हर वर्ग की भागीदारी योग दिवस के कार्यक्रम में अर्जित करने के लिए सुनियोजित प्रयासों की जरूरत है।  श्री चौधरी ने योग दिवस के कार्यक्रमों में जिले के नागरिकों से उत्साह से शामिल होने की अपील की।  उन्होंने स्वयंसेवी संगठनों, होगार्ड, एन.सी.सी., एन.एस.एस., जन अभियान परिषद, पेंशनर्स एवं वरिष्ठ नागरिकों के संगठनों से भी योग दिवस के कार्यक्रम से जुड़ने का आग्रह किया। 
   कलेक्टर ने बैठक में सभी शाला प्राचार्यों को अपनी-अपनी संस्थाओं में अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के आयोजन की अभी से तैयारियां प्रारंभ करने के निर्देश दिये हैं। श्री चौधरी ने कहा कि अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के कार्यक्रम जिले के सभी अशासकीय हाई स्कूलों और हायर सेकेण्डरी स्कूलों में भी आयोजित किये जायेंगे। कलेक्टर ने उच्च शिक्षा विभाग के अधिकारियों से कहा कि वे मेडिकल एवं इंजीनियरिंग कालेजों सहित जिले के सभी महाविद्यालयों में अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के कार्यक्रम का आयोजन सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस का कार्यक्रम पूरी तरह स्वैच्छिक है, इसमें शामिल होने के लिए किसी को भी बाध्य नहीं किया जाना चाहिए। 
   कलेक्टर ने कहा कि अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर सात वर्ष से अधिक आयु के बच्चे ही शामिल हों इस पर खास ध्यान दिया जाये। उन्होंने नगर निगम, जिले की सभी नगर पालिका परिषदों एवं नगर पंचायतों में वार्ड स्तर तक 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के कार्यक्रम आयोजित करने की बात कही। श्री चौधरी ने कहा कि स्कूलों-कालेजों में आयोजित कार्यक्रम केवल विद्यार्थियों के लिए ही नहीं होंगे बल्कि इनमें आम नागरिकों की सहभागिता भी सुनिश्चित करनी होगी। उन्होंने इन कार्यक्रमों में क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों और प्रतिष्ठित नागरिकों को भी आमंत्रित करने के निर्देश शैक्षणिक संस्थाओं के प्राचार्यों को दिये। 
   कलेक्टर ने अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के कार्यक्रम के पूर्व प्रत्येक आयोजन स्थल पर इनमें भागीदारी करने वाले विद्यार्थियों एवं नागरिकों के लिए योग पूर्वाभ्यास के कार्यक्रम आयोजित करने की बात कही। श्री चौधरी ने बैठक में सभी शैक्षणिक संस्थाओं के प्राचार्यों तथा नगर निगम, जिला पंचायत एवं उच्च शिक्षा विभाग के अधिकारियों को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के कार्यक्रम के आयोजन की जानकारी जिला शिक्षा अधिकारी एवं संबंधित विभाग के नोडल अधिकारियों को एक-दो दिन के भीतर देने के निर्देश दिये। उन्होंने आयोजन स्थलों पर रेडियो, टेलीविजन, माइक एवं दरी की व्यवस्था करने की हिदायत भी दी। कलेक्टर ने कहा कि अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के कार्यक्रम खुले मैदान में ही रखे जायें। केवल बारिश होने की स्थिति में ही ये कार्यक्रम शाला भवन के कारीडोर या प्रेक्षागृह में किये जा सकेंगे।
   बैठक में बताया गया कि 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस का कार्यक्रम सभी शैक्षणिक संस्थाओं, महाविद्यालयों, नगरीय निकायों एवं ग्राम पंचायतों में एक साथ सुबह 6.30 बजे से शुरू होगा। निर्धारित कार्यक्रम स्थल पर प्रात: 6.30 बजे सभी सहभागी उपस्थित रहेंगे। इनमें स्कूल-कालेज के छात्र, योग संस्थानों के प्रतिनिधि, एन.सी.सी. केडेट, पुलिस कर्मी, शासकीय कर्मी, नागरिक और जनप्रतिनिधि शामिल होंगे। प्रात: 6.42 पर मध्यप्रदेश गान होगा। मुख्यमंत्री का संदेश प्रात: 6.45 पर प्रसारित होगा। इसके बाद प्रात: 7 से प्रात: 8 बजे तक योग कार्यक्रम होगा। प्रात: 8.02 पर कार्यक्रम का समापन होगा। 
   फेसिलिटेशन सेन्टर – अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर योगभ्यास कार्यक्रम करने वाली सभी संस्थाओं, सरकारी एवं गैर सरकारी संगठनों के पंजीयन के लिए एमएलबी स्कूल में फेसिलिटेशन सेंटर की स्थापना की जाएगी। फेसिलिटेशन सेंटर 10 जून से कार्य करना प्रारंभ कर देगा। कलेक्टर महेशचन्द्र चौधरी ने बताया कि फेसिलिटेशन सेंटर की स्थापना योग के कार्यक्रम आयोजित करने वाली संस्थाओं के बीच समन्वय स्थापित करना है। उन्होंने कहा कि अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर कार्यक्रम आयोजित करने वाली संस्थाओं को पंजीयन के साथ-साथ यह भी बताना होगा कि वे किस स्थान पर यह कार्यक्रम आयोजित कर रही हैं और कितने लोग इसमें भागीदारी करेंगे। 
   हर पार्क-उद्यान और सार्वजनिक स्थान पर हों योग के कार्यक्रम- कलेक्टर ने बैठक में मौजूद सभी संगठनों और संस्थाओं के पदाधिकारियों से कहा कि अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर जिले के स्थित सभी छोटे-बड़े उद्यानों, सार्वजनिक स्थानों एवं सामुदायिक भवनों में भी योग के कार्यक्रम आयोजित करें। उन्होंने कहा कि नगर निगम के हर एक वार्ड में भी योग के कार्यक्रम आयोजित किए जाने चाहिए। श्री चौधरी ने सभी संस्थाओं से अपील की है कि वे नागरिकों को योग से होने वाले लाभ की जानकारी दें और अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के कार्यक्रमों में शामिल होने के लिए प्रेरित करें। श्री चौधरी ने भंवरताल सहित जबलपुर शहर में स्थित सभी उद्यान, खेल के मैदान और कालोनियों में भी अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर योग के कार्यक्रम आयोजित करने का आग्रह स्वैच्छिक संगठनों, योग से जुड़ी संस्थाओं, खेल संगठनों एवं गैर सरकारी संगठनों के पदाधिकारियों से किया। 
   कलेक्टर ने जिला पंचायत सीईओ से भी कहा है कि ग्राम पंचायत स्तर पर योग के कार्यक्रम आयोजित किए जाने के साथ-साथ इसका विस्तार ग्राम स्तर तक किया जाए। 
   दिव्यांगों की भागीदारी सुनिश्चित करने के निर्देश- कलेक्टर ने बैठक में सामाजिक न्याय एवं नि:शक्तजन कल्याण विभाग के अधिकारियों को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के कार्यक्रमों में दिव्यांगों की भागीदारी सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उन्होंने योग दिवस के कार्यक्रमों में महिला स्व सहायता समूहों के माध्यम से महिलाओं की भागीदारी बढ़ाने की जरूरत भी बताई। 
   दस जून से शुरू होगा प्रशिक्षण – अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर आयोजित कार्यक्रमों में शामिल होने वाले नागरिकों को योगाभ्यास कराने वाले प्रशिक्षकों का प्रशिक्षण 10 जून से एमएलबी स्कूल के प्रेक्षागृह में शुरू होगा। प्रशिक्षकों को प्रशिक्षण पतांजलि, आर्ट ऑफ लिविंग और योग से जुड़े अन्य संगठनों के योग शिक्षकों द्वारा दिया जाएगा। 
   दो दिन पूर्व प्रारंभ होगी रिहर्सल – अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर आयोजित योग के कार्यक्रमों में एकरूपता बनी रहे इसके लिए प्रत्येक आयोजन स्थल पर दो दिन पूर्व से 19 एवं 20 जून को रिहर्सल की जाएगी। कलेक्टर ने कहा कि जिले में अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर योगाभ्यास कार्यक्रम तीन दिन चलेंगे। इसमें दो दिन 19 एवं 20 जून रिहर्सल के होंगे। श्री चौधरी ने कहा कि योगाभ्यास सिर्फ एक दिन नहीं बल्कि प्रत्येक व्यक्ति की दिनचर्या का अनिवार्य हिस्सा बनना चाहिए।