पुदुच्चेरी में एमबीए छात्र की ब्लू व्हेल गेम से मौत का अंदेशा

इस ख़बर को शेयर करें:

पुदुच्चेरी। पांडिचेरी विश्वविद्याल के एमबीए प्रथम वर्ष के छात्र शशिकांत बोहरा के ऑनलाइन ब्लू व्हेल गेम का शिकार बनने का संदेह है। राज्य में ब्लू व्हेल गेम से यह पहली मौत बताई जा रही है। बोहरा असम के रहने वाले हैं। पुलिस के मुताबिक बोहरा (20) को विश्वविद्यालय छात्रावास परिसर में गुरुवार की रात एक पेड़ से लटका हुआ पाया गया।

पुलिस ने बोहरा का मोबाइल फोन व लैपटॉप कब्जे में ले लिया है। पुलिस को बोहरा के ब्लू व्हेल गेम का शिकार होने का अंदेशा है।

बोहरा के कॉलेज के साथियों ने कहा कि बीते एक हफ्ते से उसने अन्य दोस्तों के साथ बातचीत नहीं की और वह हर वक्त अपने मोबाइल फोन में डूबा रहता था।

कॉलेज के एक साथी के मुताबिक बोहरा ने असम के कुछ दोस्तों को ब्लू व्हेल गेम खेलने के लिए आमंत्रित किया था।

उधर, मद्रास उच्च न्यायालय की मदुरै पीठ 4 सितंबर को एक याचिका पर सुनाई करेगी, जिसमें तमिलनाडु के मदुरै में बुधवार को एक कॉलेज छात्र की मौत के बाद ब्लू व्हेल गेम पर प्रतिबंध की मांग की गई है। याचिका को एक वकील ने दायर किया है।

पीड़ित विग्नेश (19) को तमिलनाडु में ऑनलाइन गेम का पहला शिकार माना जा रहा है। उसके हाथ पर ब्लू व्हेल की एक तस्वीर बनी थी।

ब्लू व्हेल गेम में किशोरों को निशाना बनाया जा रहा है और उन्हें कई खतरनाक गतिविधियां करने को बाध्य किया जाता है और अंत में आत्महत्या के लिए प्रेरित किया जाता है। इस गेम से दुनियाभर में कई जानें गई हैं।