पुजारी को जिंदा जलाने का मामला: कपिल मिश्रा ने पीड़ित परिवार को सौंपी 25 लाख रुपए की सहायता
इस ख़बर को शेयर करें

जयपुर। करौली जिले के सपोटरा इलाके में जमीन विवाद में जिंदा जलाए गए पुजारी बाबूलाल वैष्णव की मौत के बाद रविवार दोपहर बाद दिल्ली के भाजपा नेता कपिल मिश्रा ने पुजारी बाबूलाल के परिजनों से मुलाकात कर उन्हें 25 लाख रुपये की आर्थिक सहायता सौंपी। घटना के बाद कपिल मिश्रा ने दो दिन पहले सोशल मीडिया के जरिए एक अपील कर मृतक पुजारी के परिवार को आर्थिक मदद करने की अपील की थी। इसके बाद कई सामाजिक संस्थाओं ने आर्थिक मदद के लिए हाथ आगे बढ़ाए।

मिश्रा की अपील पर देश-विदेश से करीब 25 लाख रुपया इकट्ठा हुआ। जिसे सौंपने के लिए भाजपा नेता मिश्रा सडक़ मार्ग से दिल्ली से करौली के लिए रवाना हुए। वे दोपहर तक सपोटरा तहसील के बुकना गांव में पुजारी बाबूलाल वैष्णव के घर पहुंचे। भाजपा नेता और पूर्व मंत्री अरुण चतुर्वेदी भी रविवार को बुकना गांव पहुंचे तथा मृतक पुजारी के परिवार से मुलाकात की। मिश्रा ने सफर के बीच ही एक वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर पोस्ट किया, जिसमें उन्होंने बताया कि वे बाबूलाल वैष्णव के घर जाने के लिए दिल्ली से निकल चुके है।

वीडियो में कपिल मिश्रा ने कहा कि महात्मा गांधी ने कहा था समाज का आखिरी व्यक्ति सबसे कमजोर असहाय होता है, उसे देखिए। ऐसे ही व्यक्तियों में पुजारी का भी परिवार है, जिस पर कोई दबंग आकर अत्याचार करता है। उसे कुचलने का प्रयास करता है। आज मुझे संतुष्टि है कि नानाजी देशमुख के जन्मतिथि पर हम उस अंतिम व्यक्ति से मिल पा रहे है। उसे सहयोग कर पा रहे है।

पुजारी पर हमले के बाद जयपुर से दिल्ली तक सियासत भी गरमा गई। शुक्रवार देर रात शव को गांव ले जाया गया तो जांच अधिकारी पर कार्रवाई और मुआवजे जैसी 4 सूत्रीय मांगों को लेकर परिजनों ने अंतिम संस्कार से इनकार कर दिया था। भाजपा सांसद किरोड़ी लाल मीणा भी परिजनों के साथ धरने पर बैठ गए थे।

विपक्ष चौतरफा हमलावर हो गया था। तब राज्य सरकार के 10 लाख का मुआवजा और एक सदस्य को संविदा पर नौकरी देने के आश्वासन के बाद परिवार राजी हो गया। हमले को आत्मदाह बताने वाले सीआई को लाइन हाजिर कर दिया गया है, जबकि पटवारी का तबादला किया गया है। इसके बाद परिजनों ने पुजारी बाबूलाल वैष्णव के शव का अंतिम संस्कार किया। घटना के 72 घंटे बाद भी अब तक 8 में से एक ही आरोपित को गिरफ्तार किया जा सका है।