सुशांत केस की जांच करेगी CBI, पटना में दर्ज FIR को भी SC ने बताया सही

बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत केस में महाराष्ट्र सरकार और मुंबई पुलिस को बड़ा झटका लगा है. सुप्रीम कोर्ट ने साफ किया है कि केस की जांच CBI ही करेगी. इसके साथ ही देश की सबसे बड़ी अदालत ने इस मामले को लेकर पटना में दर्ज FIR को भी सही ठहराया है. इसके साथ कोर्ट ने मुंबई पुलिस को जांच में सहयोग करने का आदेश भी दिया है. कोर्ट ने अपने फैसले में माना की मुंबई पुलिस ने इस मामले में जांच नहीं बल्कि सिर्फ पूछताछ की है.

सुप्रीम कोर्ट के फैसले को सुशांत के परिवार के लिए बड़ी जीत मानी जा रही है. उनके वकील विकास सिंह ने इस फैसले को एतिहासिक करार दिया. उन्होंने कहा कि इंसाफ की तरफ ये पहला और बड़ा कदम है. अब सीबीआई अपनी जांच शुरू करेगी और सुशांत के परिवार को उनकी मौत का सच पता चल सकेगा. रिया ने कल जो बयान जारी किया था वो केवल सहानुभूति पाने के लिए किया था.

सुप्रीम कोर्ट ने सुशांत सिंह राजपूत केस को सीबीआई को जांच के लिए सौंप दिया है. सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने कहा कि रिया चक्रवर्ती की हैसियत नहीं है कि वह सीएम नीतीश कुमार पर कमेंट करे. उन्होंने कहा कि बिहार के सीएम ने जो सपोर्ट किया उसी के चलते सुशांत केस की जांच सीबीआई तक पहुंची है.

DGP ने कहा कि मैं बहुत खुश हूं. ये अन्याय के विरुद्ध न्याय की जीत है. यह 130 करोड़ लोगों की भावनाओं की जीत है. इस फैसले से सुप्रीम कोर्ट के लिए और भी सम्मान बढ़ेगा. दरअसल रिया चक्रवर्ती ने कहा था कि सुशांत के केस को बढ़ा-चढ़ा कर दिखाया जा रहा है. इसकी वजह बिहार चुनाव है. बिहार के मुख्यमंत्री ने खुद एफआईआर दर्ज होने में दिलचस्पी दिखाई.