कल जारी होंगे सीबीएसई के 10वीं कक्षा के नतीजे

केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा है कि केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) बुधवार को 10वीं कक्षा के नतीजे जारी करेगा। उन्होंने ट्वीट किया, “मैं सभी विद्यार्थियों को शुभकमानाएं देता हूं।” गौरतलब है, 10वीं बोर्ड की बची हुई परीक्षाएं जुलाई में होने वाली थीं लेकिन कोरोना वायरस की चिंताओं को लेकर उन्हें रद्द कर दिया गया था।

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) 10वीं कक्षा के परिणाज कल 15 जुलाई को जारी किए जाएंगे। केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री (HRD Minister) डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी। उन्होंने इस मौके पर छात्रों को बेस्ट ऑफ लक भी बोला। सीबीएसई 12वीं का रिजल्ट सोमवार को जारी किए जाने के बाद अब 10वीं के छात्र भी रिजल्ट के इंतजार में हैं। सीबीएसई 10वीं का रिजल्ट बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट cbseresults.nic.in पर जारी किया जाएगा। इसके साथ छात्र अपने स्कूल व डिजिलॉकर से भी अपनी मार्कशीट प्राप्त कर सकेंगे।

दिल्ली के छात्रों के रद्द हुए थे पेपर-
आपको बता दें कि सीबीएसई 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं 15 फरवरी 2020 से शुरू हुई थीं। जिसमें 10वीं का अंतिम पेपर 18 मार्च को था। दिल्ली के कुछ इलाकों में कोरोना वायरस से पहले दंगा भड़का था जिस कारण से सीबीएसई पूर्वी दिल्ली के परीक्षा केंद्रों की परीक्षाएं स्थगित कर दी गईं थी। दिल्ली के इन इलाकों की परीक्षाएं पहले कराई जानी थी लेकिन सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के बाद सीबीएसई ने कोरोना वायरस संकट को देखते हुए 10वीं और 12वीं परीक्षाएं रद्द करने का फैसला किया था।

ऐसे में दिल्ली के सीबीएसई 10वीं के छात्रों का रिजल्ट इंटरलनल असेसमेंट, प्रोजेक्ट वर्क और असाइनमेंट वर्क के आधार पर जारी किया जाएगा। सीबीएसई ने सुप्रीम कोर्ट को बताया था कि सीबीएसई 12वीं के छात्र जो असेसमेंट मार्क्स से संतुष्ट नहीं होंगे उन्हें बाद में परीक्षा में बैठने का मौका दिया जाएगा जबकि 10वीं के छात्रों का यह असेसमेंट से जारी किया गया रिजल्ट ही अंतिम रिजल्ट होगा।

बोर्ड एग्जाम से मिले 15 अंक तो भी हो जाएंगे पास-

सीबीएसई के परीक्षा पैटर्न में हाल के वर्षों में जो बदलाव किया गया है और उसे बहुत ही आसान बनाया गया है। 2020 के सीबीएसई परीक्षा पैटर्न के अनुसार, 80 परसेंट मार्क थ्योरी एग्जाम के लिए निर्धारित हैं और 20 परसेंट मार्क इंटरनल एसेसमेंट के लिए। छात्रों को परीक्षा में पास होने के लिए परीक्षा और इंटरनल दोनों के मार्क मिलाकर 33 परसेंट पासिंग मार्क लाना जरूरी है। ऐसे में यदि किसी के छात्र थ्योरी की परीक्षा में 33 परसेंट से कम आते हैँ तो वह इंटरनल असेसमेंट के अंक मिलाकर पास माना जाएगा। यानी किसी विषय में यदि बोर्ड परीक्षा में सिर्फ 15 अंक मिले तो भी छात्र इंटरनल असेसमेंट के मार्क्स के साथ पास हो जाएगा।

ऐसे मिलेंगे इंटरनलए असेसमेंट के मार्क्स-
सीबीएसई 10वीं की परीक्षा में प्रत्येक विषय के लिए 20 अंक इंटरनल असेसमेंट के लिए निर्धारित हैं। जिसमें पीरियाडिक टेस्ट (PT) के लिए 10 अंक, नोटबुक जमा कराने के 05 अंक और सब्जेक्ट इनरिचमेंट एक्टीविटी के लिए 05 अंक निर्धारित हैं।