चारघाट पंचायत सचिव को रिश्वत लेने के कारण किया निलंबित

जबलपुर@ चारघाट पंचायत सचिव ने प्रधानमंत्री आवास योजना और गरीबी रेखा कार्ड बनवाने की आड़ में रिश्वत लेने वाले ग्राम पंचायत सचिव को जिला पंचायत सीईओ हर्षिका सिंह ने निलंबित कर दिया है। निलंबित सचिव इस अवधि तक जबलपुर जनपद में अपनी सेवाएं देंगे। उल्लेखनीय है कि 8 फरवरी को चारघाट पंचायत के तीन ग्रामीणों ने एसडीएम को शिकायत सौंपी कि सचिव हेमंत कुमार साहू ने पीएम आवास योजना और बीपीएल कार्ड बनवाने की एवज में पैसा लिया है।

शिकायकर्ताओं का आरोप था कि सचिव उन्हीं ग्रामीणों को शासन की योजनाओं का लाभ देते हैं जो रिश्वत देते हैं। एसडीएम ने शिकायत पर मामले की जांच की तो प्रथम दृष्टया सचिव दोषी पाया गया। एसडीएम ने दोषी सचिव पर कार्रवाई पर लिए कलेक्टर महेशचंद्र चौधरी को मामले की फाइल पहुंचाई, कलेक्टर की अनुशंसा पर जिला पंचायत सीईओ ने सचिव हेमंत कुमार साहू को निलंबित किया।शिकायतकर्ताओं ने एसडीएम को पूरे मामले में सूबत के तौर पर फोन की रिकार्डिंग सौंपी थी, जिसमें सचिव शिकायतकर्ताओं से पीएम और गरीबी रेखा कार्ड बनवाने की आड़ में सौदा कर रहा है। एसडीएम ने इसी आधार पर सचिव को दोषी करार देते हुए कलेक्टर को कार्रवाई के लिए लिखा था। बताया जा रहा है कि इस मामले में सचिव पर एसडीएम को उस वक्त शक हुआ जब दो शिकायतकर्ताओं ने शपथ पत्र के माध्यम से अपनी शिकायत वापस ले ली। इसके बाद एसडीएम ने अपनी जांच को गंभीरता से लेते हुए सचिव को दोषी करार दिया।