बच्चे का सपना हुआ सच, खुदाई में मिले ब्रम्हा-विष्णु
जबलपुर। जबलपुर के पाटन तहसील बिनैकी गांव के एक 12 साल के बच्चे को रात को सपने में भगवान आए आैर सुबक उस बच्चे ने रात का सपना परिवार के लोगों को बताया तो किसी ने उसकी बात पर यकीन नहीं किया।
जानकारी के अनुसार पाटन तहसील के अंतर्गत बिनैकी गांव में एक 12 साल के बच्चे अजय यादव को रात के समय सपने में भगवान आए और उसने तालाब किनारे भगवान की प्रतिमा गड़ी देखी। सुबह अजय ने ये बात परिवार के लोगों को बताई तो किसी ने उसकी बात नहीं मानी। उसके बाद अजय खुद तालाब किनारे पहुंचा आैर सपने में देखी जगह पर खुदाई करने लगा। कुछ ही देर में उसे ब्रम्हा-विष्णु की मूर्ति
मिली। यहा खबर आग की तरह पूरे गांव में फैल गई। इसके बाद ग्रामीणजन आकर खुदाई में जुट गए। अब तक दर्जनों मूर्तियां निकाली जा चुकी है। खबर लगते ही पुलिस व पुरातत्व विभाग के अधिकारी भी पहुंच गए है। उन्होंने बताया खूदाई में जो मूर्तियां मिली है वो 13वी शताब्दी की है। आज ये मूर्तियां बेशकीमती है। मूर्तियां मिलने के बाद ग्रामीणजनों का मानना है कि तालाब में पूरा मंदिर दबा हो सकता है, इसलिए प्रशासन की मदद से और खुदाई कर मंदिर बाहर निकाला जा सकता है।