India China Border Tension: लद्दाख में भारतीय जमीन पर कब्जा करने की कोशिश में लगे चीन को अपने कदम पीछे हटाने पड़े

धोखेबाजी की फितरत वाले चीन को अब लद्दाख में किसी भी हिमाकत का मुंहतोड़ जवाब जवाब मिलेगा क्योंकि भारतीय सेना ने पैंगॉन्ग सो इलाके में रणनीतिक रूप से अहम पॉइंट्स पर अपनी तैनाती बेहद मजबूत कर ली है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक भारतीय सेना की विकास रेजिमेंट बटालियन की उत्तराखंड से पैंगोंग लेक के दक्षिणी तट के पास तैनात की गई.

अब बटालियन ने एक स्ट्रैटेजिक हाइट पर कब्जा कर लिया है, जो वास्तविक नियंत्रण रेखा पर भारत के क्षेत्र में निष्क्रिय था. इस तैनाती से भारत को रणनीतिक लाभ मिल सकता है. दरअसल बीते 29-30 अगस्त की दरम्यानी रात को चीनी घुसपैठ की कोशिश के बाद स्ट्रैटजिक पॉइंट्स पर भारत ने सभी इलाकों में अपनी मजबूती बढ़ाई है.

रिपोर्ट्स के मुताबिक खासी संख्या में चीनी सैनिक पैंगोंग सो के दक्षिणी तट की ओर बढ़ रहे थे जिसका उद्देश्य उस क्षेत्र पर अतिक्रमण करना था लेकिन भारतीय सेना ने प्रयास को नाकाम करने के लिए एक महत्वपूर्ण तैनाती कर दी. इसके अलावा भारतीय वायुसेना से भी कहा गया है कि पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा से लगे क्षेत्रों में चीन की वायु गतिविधियां बढ़ने के मद्देनजर अपनी निगरानी बढ़ाए.