कलेक्टर ने किया धान खरीदी केन्द्र का निरीक्षण

इस ख़बर को शेयर करें:

जबलपुर @ कलेक्टर छवि भारद्वाज ने आज आरछा, पाटन एवं उड़ना स्थित धान खरीदी केन्द्रों का निरीक्षण किया और अधिकारियों को खरीदी केन्द्रों पर किसानों की सहूलियत पर ज्यादा ध्यान देने के निर्देश दिये हैं। श्रीमती भारद्वाज ने खरीदी केन्द्रों के निरीक्षण के दौरान किसानों द्वारा विक्रय हेतु लाई गई धान का मुआयना भी किया। उन्होंने किसानों से भी चर्चा की और उनसे कठिनाईयों से बचने खरीदी केन्द्रों पर एफ ए क्यू क्वालिटी की धान लाने का ही अनुरोध किया।

कलेक्टर ने प्रत्येक धान उपार्जन केन्द्र पर पंखा, छन्ना और माईश्चर मीटर की उपलब्धता सुनिश्चित करने के निर्देश अधिकरियों को दिये। उन्होंने आरछा स्थित धान उपार्जन केन्द्र पर नॉन एफ ए क्यू मापदण्ड की धान रखी पाई जाने पर खरीदी केन्द्र प्रभारी को तत्काल ऐसी धान को केन्द्र से हटाने के निर्देश दिये। उन्होंने इस केन्द्र पर किसानों से खरीदी गई धान के सिले हुए बारदानों पर किसानों का नाम एवं पंजीयन क्रमांक का उल्लेख करने की हिदायत भी इस अवसर पर दी।
श्रीमती भारद्वाज ने उड़ना स्थित उपार्जन केन्द्र पर भी करीब 500 क्विंटल नॉन एफ ए क्यू धान पाई जाने पर खरीदी केन्द्र प्रभारी को तत्काल इसे संबंधित किसान को वापस करने के निर्देश दिये। उन्होंने अधिकारियों से साफ शब्दों में कहा कि किसी सूरत में नॉन एफ ए क्यू धान की खरीदी नहीं होनी चाहिए। उन्होंने पाटन स्थित धान उपार्जन केन्द्र में भी किसानों से खरीदी गई धान के बारदानों पर संबंधित किसान का नाम, पंजीयन क्रमांक आदि नहीं पाये जाने पर अप्रसन्नता व्यक्त की। श्रीमती भारद्वाज ने कहा कि प्रत्येक खरीदी केन्द्र पर किसानों से उपार्जित धान के बारदानों पर किसानों के नाम, पंजीयन क्रमांक, खरीदी की तारीख अनिवार्य रूप से अंकित होनी चाहिए। उन्होंने उपार्जन व्यवस्था से जुड़े सभी अधिकारियों को इस पर खास ध्यान देने की हिदायत भी दी।
कलेक्टर ने निरीक्षण के दौरान अधिकारियों को किसानों से खरीदी गई धान की कीमत का तय समय-सीमा के भीतर भुगतान करने के निर्देश भी दिये। धान उपार्जन केन्द्रों के निरीक्षण के दौरान कलेक्टर के साथ जिला आपूर्ति नियंत्रक सी.एस. जादौन, जिला विपणन अधिकारी रोहित सिंह बघेल भी मौजूद थे।