किल कोरोना अभियान के प्रभावी क्रियान्वयन को लेकर, प्रशासन एवं पुलिस अधिकारियों की बैठक संपन्न

जबलपुर। कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने तथा कोरोना के संदिग्ध मरीजों की तलाश करने राज्य शासन के निर्देशानुसार प्रारंभ हुए किल कोरोना अभियान के जिले में प्रभावी क्रियान्वयन को लेकर प्रशासन, पुलिस एवं स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों की बैठक आज शाम कलेक्टर कार्यालय के सभाकक्ष में संपन्न हुई।

कलेक्टर श्री भरत यादव ने बैठक की अध्यक्षता करते हुए सभी अधिकारियों को किल कोरोना अभियान की रूपरेखा की विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने बताया कि जिले के शहरी और ग्रामीण क्षेत्र में एक साथ लोगों के स्वास्थ्य की जानकारी लेने के लिए चलाये घर-घर सर्वे के इस अभियान में कोरोना के संदिग्ध मरीजों सहित डेंगू, मलेरिया एवं मौसमी बीमारी से पीडि़तों को चिन्हित करके उनका परीक्षण किया जायेगा और जरूरत होने पर उनका सेम्पल भी लिया जायेगा। श्री यादव ने बताया कि अभियान में गर्भवती महिलाओं, धात्री महिलाओं एवं टीकाकरण से छूट गए बच्चों का सर्वे भी किया जा रहा है।

श्री यादव ने बैठक में मौजूद प्रशासनिक एवं पुलिस अधिकारियों को अपने-अपने क्षेत्र में अभियान की मानीटरिंग करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि अधिकारियों को यह सुनिश्चित करना होगा कि उनके क्षेत्र में कोई भी घर और कोई भी व्यक्ति सर्वे से न छूट पाये।

कलेक्टर ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को किल कोरोना अभियान का थाना वार एवं तहसील वार माइक्रो प्लान तैयार कर संबंधित अधिकारियों को भेजने के निर्देश दिये हैं। ताकि घर-घर सर्वे के दौरान सर्वे दलों को आने वाली कठिनाईयों का तुरंत निराकरण किया जा सके। श्री यादव ने इन अधिकारियों को अपने-अपने क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों का भी अभियान में सहयोग लेने का आग्रह किया।

पुलिस अधीक्षक श्री बहुगुणा ने बैठक में मौजूद पुलिस अधिकारियों को किल कोरोना अभियान के प्रभावी क्रियान्वयन हेतु प्रशासन एवं स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों से बेहतर समन्वय स्थापित करने के निर्देश दिये। उन्होंने अभियान के तहत सर्वे दलों को आने वाली कठिनाईयों का त्वरित निराकरण करने के निर्देश भी दिये।

बैठक में अपर कलेक्टर हर्ष दीक्षित, संदीप जीआर एवं व्हीपी द्विेदी, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अमित कुमार एवं अगम जैन, मुख्य चिकित्सा अधिकारी श्री रत्नेश कुररिया भी मौजूद थे।