प्रशासन के पक्षपात पूर्ण रवैया के विरोध में मौन अनशन पर बैठीं कांग्रेस प्रत्याशी

इस ख़बर को शेयर करें:

अशोकनगर। अशोकनगर आरक्षित सीट से चुनाव लड़ रहीं कांग्रेस प्रत्याशी आशा दोहरे निर्वाचन अधिकारी द्वारा पक्षपात पूर्ण रवैया अपनाने के विरोध में रविवार को गांधी प्रतिमा के समक्ष मौन अनशन पर बैठ गईं। हालांकि करीब 3 घंटे तक मौन अनशन पर बैठीं कांग्रेस प्रत्याशी को चंदेरी विधायक गोपाल सिंह द्वारा कांग्रेस के वरिष्ठ नेतृत्व को निर्वाचन पदाधिकारी से आश्वासन की बात कहकर उठा दिया गया है, वहीं अब कांग्रेस प्रत्याशी दौहरे का कहना है कि अगर प्रशासन ने अपना पक्षपात पूर्ण रवैया दूर नहीं किया तो वे फिर आमरण अनशन पर बैठेंगी।

कांग्रेस प्रत्याशी आशा दौहरे तमाम कांग्रेसियों के साथ सुबह 10 बजे गांधी पार्क चौराहे पर मौन अनशन पर बैठीं रहीं। इस मामले में मप्र कांग्रेस प्रवक्ता शहरयार खान ने बताया कि कांग्रेस प्रत्याशी आशा दोहरे ने अशोक नगर विधानसभा में स्वतंत्र और निष्पक्षता के संवैधानिक अधिकार की मांग को लेकर अनशन पर बैठीं। उनका कहना है कि इस संबंध में कई बार जिला निर्वाचन अधिकारी को शिकायत की गई पर कोई सुनवाई नहीं की जा रही है।