जनता के कल्याण से कांग्रेस का कोई सरोकार नहीं: शिवराज सिंह चौहान

Tags:
इस ख़बर को शेयर करें:

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मंगलवार को मुरैना जिले की जौरा विधानसभा क्षेत्र में पार्टी उम्मीदवार के समर्थन में जनसभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि मैं जनता को झुककर प्रणाम करता हूं, तो कमलनाथ जी कहते हैं कि शिवराज तो ‘घुटना टेक’ मुख्यमंत्री है।

मैं तो जनता का सेवक हूं। मैं एक बार नहीं, एक लाख बार जनता के चरणों में प्रणाम करूंगा। मेरे लिए तो मेरी जनता ही भगवान है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के प्रमुख चुनावी मुद्दे ये हैं-शिवराज नालायक है। शिवराज भूखे-नंगे परिवार से है। बिजली सडक़ पानी इनके मुद्दे नहीं है। जनता के कल्याण से इनका कोई सरोकार नहीं है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि मैंने गरीब परिवारों के मेधावी बच्चों की उच्च शिक्षा की फीस भरवाने और गरीब गर्भवती बहनों को लड्डू खाने के 16 हजार रुपये देने की योजना बनाई, कमलनाथ जी ने इस योजना को बंद कर दिया।

कमलनाथ जी आप तो बच्चों की फीस और बहनों के लड्डू का भी पैसा खा गये। कमलनाथ जी अहंकार से भरे हुए हैं। उन्होंने बहन इमरती देवी का अपमान किया और उनकी निर्लज्जता तो देखिये कि अपनी टिप्पणी को उचित ठहराने के लिए कुतर्क दे रहे हैं। मैं मैडम सोनिया गांधी से पूछना चाहता हूं कि क्या गरीब की कोई इज्जत नहीं होती है।

उन्होंने कहा कि एक ऐसा व्यक्ति जो माँ, बहन और बेटी का सम्मान न करे, वह किसी भी पद पर रहने लायक नहीं है! न इनके मन में बेटियों के लिए सम्मान का भाव है, न गरीबों के लिए और न ही किसानों के लिए! ये तो केवल बड़े उद्योगपति हैं। उन्होंने कहा कि कमलनाथ मुझे कुछ भी कह लीजिए, बर्दाश्त कर लूंगा; लेकिन मां, बहन, बेटी के अपमान को हम किसी कीमत पर बर्दाश्त नहीं करेंगे।

शिवराज ने कहा कि मैं आप सबसे आग्रह करने आया हूं कि मध्यप्रदेश के उत्थान और जनता के कल्याण के लिए भारतीय जनता पार्टी को अपना आशीर्वाद देकर भारी मतों से विजयी बनाइये।