कांग्रेस अब गाय भी बचाएगी, आज से बुंदेलखंड में शुरू हो रही गाय बचाओ, किसान बचाओ पदयात्रा

इस ख़बर को शेयर करें:

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में कांग्रेस अपनी खोई सियासी जमीन को मजबूत करने में जुटी है. कोई न कोई अभियान चलाकर लोगों को पार्टी से जोड़ना चाहती है. अब कांग्रेस अब बुंदेलखंड में गोवंश और किसानों की दुर्दशा को लेकर गाय बचाओ, किसान बचाओ पदयात्रा की शुरूआत शनिवार यानी आज 26 दिसंबर 2020 से शुरू करने जा रही है. यह यात्रा ललितपुर की सौजना से निकलकर बुंदेलखंड के सभी जिलों से होती हुई चित्रकला में मंदाकिनी नदी के तट पर खत्म होगी. यहां पर मरी हुईं गायों की अस्थियों का तर्पण किया जाएगा.

शुक्रवार को इस बारे में राष्ट्रीय सचिव धीरज गुर्जर ने बताया कि यूपी में लोकतंत्र की धज्जियां उड़ाई जा रही है. रोहित चैधरी, बाजीराव खाड़े, पूर्व सांसद प्रदीप जैन आदित्य सहित तमाम नेताओं को नजरबंद कर दिया. उन्होंने कहा कि किसानों का मुद्दा उठाना गुनाह है क्या.

यूपी सरकार खुद ही मान चुकी है कि गौशालाओं में गायों की मौत हो रही है तो क्या गोवंश को बचाने की मांग उठाना कया गलत है. चारा पानी का प्रबंधन न होने के कारण गाय तड़प-तड़पकर दम तोड़ रहीं हैं. सौजना गोशाला का वीडियो वायरल हुआ तो मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार ने कहा कि वीडियो झूठा है और बाद में दो अधिकारियों को सस्पेंड कर दिया. आखिर वीडियो और घटना झूठी थी तो अधिकारियों को निलंबित क्यों किया गया.हम गायों को बचाने के लिए मुहिम चला रहे हैं.

बुंदेलखंड में कांग्रेस को लोगों का समर्थन मिल रहा है तो भाजपा खासकर सीएम योगी घबराए हुए हैं. उन्होंने कहा कि कांग्रेस शांतिपूर्वक पदयात्रा निकालेंगे लेकिन उन्हें नजरबंद करना और अरेस्ट करना लोकतंत्र की हत्या. यूपी कांग्रेस उपाध्यक्ष वीरेंद्र चैधरी ने कहा कि हम किसानों के बेटे हैं. किसानों और गायों दोनों की दुर्दशा हो रही है. कांग्रेस पार्टी इसे बर्दाश्त नहीं करेगी.

इस दौरान प्रवक्त सुरेंद्र राजपूत, पिछड़ा वर्ग विभाग के चेयरमैन मनोज यादव, महामंत्री विश्वविजय सिंह, सोशल मीडिय के चेयरमैन मोहित पांडेय, महामंत्री विवेकानंद पाठ, मीडिया संयोजक ललन कुमार ने संबोधित किया. बता दें कि अभी तक गाय बचाने की बात भाजपा या उससे जुड़े संगठन करते थे लेकिन अब गायों को बचाने के लिए कांग्रेस भी आगे आ रही है. अब कांग्रेस गाय बचाओ, किसान बचाओ पदयात्रा निकाल रही है.