प्रसिद्ध मलयाली साहित्यकार को धमकी; छह महीने में मुसलमान नहीं बने तो हाथ-पैर काट दिए जाएंगे

केरल के जाने-माने मलयाली लेखक केपी रामानुन्नी को इस्लाम धर्म कबूल करने की धमकी मिली है. खबर के मुताबिक उन्हें कोझिकोड स्थित आवास पर करीब एक हफ्ते पहले धमकी भरा एक पत्र मिला था, जिसमें उन्हें धर्म बदलने के लिए छह महीने का वक्त देने की बात कही गई है. इसमें आगे कहा गया है कि ऐसा नहीं करने पर उनका दायां हाथ और बायां पैर काट दिया जाएगा. इस पत्र में लेखक पर आरोप लगाया गया है कि उन्होंने अपने कुछ लेखों के जरिए मुसलमान युवाओं को बहकाने की कोशिश की है.

समाचार एजेंसी पीटीआई को रामानुन्नी ने बताया, ‘मुझे नहीं मालूम कि इसके पीछे कौन लोग हैं और उनका मकसद क्या है. फिलहाल मैंने कोझिकोड शहर पुलिस आयुक्त के सामने मामला दर्ज करा दिया है.’ रामानुन्नी ने आगे बताया कि शुरुआत में उन्होंने इस पत्र की अनदेखी कर दी थी लेकिन, बाद में कुछ वरिष्ठ लेखकों के कहने पर उन्होंने पुलिस में इसकी शिकायत दर्ज कराई है. उधर, पुलिस के मुताबिक उसने मामले की जांच शुरू कर दी है.

इस बीच, एक अन्य मामले में त्रिचूर स्थित लेक्चरर दीपा निशांथ को सोशल मीडिया पर जान से मारने की धमकी मिली है. उन्होंने इस संबंध में पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है. दीपा ने इस मामले में दक्षिणपंथी कार्यकर्ताओं पर आरोप लगाया है. पिछले दिनों उनके कॉलेज में प्रसिद्ध चित्रकार एमएफ हुसैन की पेंटिंग्स प्रदर्शित की गई थीं और दीपा का दावा है कि उन्हें इसी वजह से धमकी दी गई है. उधर, केरल के मुख्यमंत्री पी विजयन ने इन धमकियों के खिलाफ सख्त कदम उठाने की बात कही है.