UP: विधानसभा सत्र में शामिल होने के लिए सभी विधायकों को कराना होगा कोरोना टेस्ट, गाइडलाइन जारी

कोरोना संक्रमण के खतरे को देखते हुए इस बार विधानसभा व विधान परिषद सदस्यों के लिए कोरोना टेस्ट की सुविधा उपलब्ध होगी। इसके लिए विधान भवन परिसर में तीनों तरह के टेस्ट की सुविधा होगी। विधानमंडल का मानसून सत्र 20 अगस्त से शुरू हो रहा है।

कोरोना संकट के चलते सत्र की बैठकें केवल तीन दिन होंगी। संक्रमण रोकने के लिए विधानसभा सचिवालय कोविड-19 के पूरे प्रोटोकाल का पालन कराया जाएगा। इसीलिए सत्र के दौरान भीड़ रोकने के लिए गैलरी पास निरस्त कर दिए गए हैं।

पूर्व विधायकों व पूर्व सांसदों के आने पर रोक लगाई गई है। दर्शक दीर्घा के पास भी नहीं बनेंगे। जो सदस्य पाजिटिव होंगे, उन्हें अस्पताल भेजा जाएगा या होम आईसोलेशन में रखा जाएगा। इसके अलावा सत्र में भाग लेने के लिए आने वाले सदस्यों के लिए गर्म पानी व काढ़े का इंतजाम रहेगा ताकि प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाई जा सके। सत्र के दौरान कैंटीनें बंद रहेंगी।