क्राईम ब्रांच की संयुक्त कार्यवाही में 3 शातिर चोर से 3 चोरियों का हुआ खुलासा, फरार 3 आरोपियों की तलाश, 3 लाख के जेवर जप्त

जबलपुर । चोरी की घटनाओं पर अंकुश लगाने हेतु पुलिस अधीक्षक जबलपुर सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.) द्वारा जेल से रिहा हुये एवं पूर्व में पकडे गये सम्पत्ति संबंधी अपराधियों से सघन पूछताछ एवं उनकी गुजर बसर की जांच तथा घटित हुई चोरी की घटनाओं में चोरी गये मशरूका की बरामदगी हेतु समस्त राजपत्रित अधिकारियों एवं थाना प्रभारी तथा क्राइम ब्रांच को आदेशित किया गया।

आदेश के परिपालन में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, शहर (उत्तर) अगम जैन (भा.पु.से.), अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक क्राइम गोपाल खांडेल, के मार्गदर्शन में प्रभारी नगर पुलिस अधीक्षक अधारताल रोहित कासवानी (भा.पु.से.), द्वारा थाना प्रभारी पनागर आर. के सोनी के नेतृत्व में थाना पनागर पुलिस एवं क्राइम ब्रांच की टीम को लगाया गया।

गठित टीम द्वारा विश्वसनीय मुखबिर की सूचना पर आशिक, मोह. तनवीर, एवं सरवर को पकड़ा गया, तीनों से सघन पूछताछ की गई, पकडे गये आरोपियो ने थाना पनागर क्षेत्र में  चोरी करना स्वीकार किया है। आरोपी की निशादेही पर सोने का 1 हार, 1 चेन, 1 जोड झूमकी, 1 मनचली, 1 पांचाली, 04 अंगूठी, कान के बाले, मंगलसूत्र, लोंग, नत्थनी, चांदी की 05 जोड़ पायल,  करधन, कंगन, चेन, एक इंडेक्स, एक मिक्सी, एक इन्वेटर कीमती लगभग 03 लाख रूपये का जप्त करते हुये थाना पनागर  में पंजीबद्ध अपराध क्रमांक 423/2020 एवं 805/2020, तथा 809/2020 धारा 457,380 भा.द.वि.  में तीनो आरोपियों को विधिवत गिरफ्तार कर मान्नीय न्यायालय के समक्ष पेश किया जा रहा है।  

 

 

उल्लेखनीय भूमिका –  पकडे गये आरोपियेां से पूछताछ कर चुराया हुआ समान बरामद करने में थाना प्रभारी पनागर श्री. आर.के. सोनी, क्राइम ब्रांच के सहायक उप निरीक्षक रामसनेही शर्मा, आरक्षक अजीत पटैल, अनिल शर्मा, राजेश केवट, हरिशंकर गुप्ता, बलजीत सत्य सेन, सायबर सेल दुर्गेश दुबे, आरक्षक नवनीत, नितिन जोशी, थाना पनागर के उप निरीक्षक सुरेन्द्र सिंह, के.के. शुक्ला, सहायक उप निरीक्षक विनोद दाहिया, आरक्षक विनोद शर्मा, देशपाल, लवकुश की सराहनीय भूमिका रही।