ख़बरें राजनैतिक गलियारे से : विपक्ष ने पूंछा मॉनसून सत्र में प्रश्नकाल को हटाना लोकतंत्र को कुचलने की कोशिश

बिहार चुनाव: 1 से 21 सितंबर के बीच राहुल गांधी करेंगे 100 वर्चुअल रैली
बिहार में इस साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी वर्चुअल रैली को संबोधित करेंगे. कांग्रेस राज्य में 100 वर्चुअल महासम्मेलन आयोजित करेगी, जिसे ‘बिहार क्रांति वर्चुअल महासम्मेलन’ का नाम दिया गया है. चुनाव की तैयारियों को लेकर पटना पहुंचे प्रदेश कांग्रेस के प्रभारी सचिव अजय कपूर ने कहा है कि पार्टी एक सितंबर से 21 सितंबर तक बिहार महाक्रांति वर्चुअल सम्मेलन का आगाज करने जा रही है. इस दौरान हर जिले में प्रति दिन दो-चार वर्चुअल सम्मेलन किया जायेगा. कांग्रेस का कहना है कि लोग एक ऐसी सरकार चाहते हैं जो विकास के लिए काम करे और लोगों के हितों की रक्षा करें. इसके लिए जनता कांग्रेस की तरफ देख रही है. इस बार कांग्रेस पार्टी का हर कार्यकर्ता मजबूती के साथ चुनाव लड़ेगा और बिहार विधान सभा चुनाव में चौकाने वाले नतीजे सामने आएंगे.

बिहार में अपने दम पर सरकार बनाने की ताकत किसी दल में नहीं- सुशील मोदी
बिहार विधानसभा चुनाव की तैयारियां जोरों पर है. बिहार के उपमुख्यमंत्री और बीजेपी नेता सुशील कुमार मोदी का कहना है कि बिहार में किसी भी दल के पास अकेले सरकार बनाने की ताकत नहीं है. उन्होंने बिहार में गठबंधन को मजबूरी नहीं बल्कि हकीकत कहा है. सुशील मोदी ने कहा कि बिहार में गठबंधन की राजनीति एक सच्चाई है. उन्होंने कहा कि बिहार में किसी पार्टी को इस मुगालते में नहीं रहना चाहिए कि वह अपने बूते चुनाव जीतकर सरकार बना सकता है. सुशील मोदी ने कहा कि 2015 के विधानसभा चुनाव में भाजपा अलग चुनाव लड़कर देख चुकी है, जबकि 2014 में नीतीश कुमार के नेतृत्व में जदयू लोकसभा का अलग चुनाव लड़कर देख चुका है. PTI से बातचीत में बिहार के उपमुख्यमंत्री ने कहा कि लोजपा, जदयू और भाजपा के गठबंधन में कोई दरार नहीं आएगी. मिलजुलकर नीतीश कुमार के नेतृत्व में चुनाव लड़ेंगे. बीजेपी नेता ने कहा कि नीतीश कुमार ही मुख्यमंत्री होंगे.

डॉ कफील की रिहाई पर बोले अखिलेश- उम्मीद है आजम खां को भी मिलेगा इंसाफ
उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव ने डॉ. कफील खान के जेल से रिहा होने का स्वागत किया है. अब अखिलेश यादव ने उम्मीद जताई कि उन्हीं की तरह झूठे मुकदमों में फंसाए गए वरिष्ठ सपा नेता आजम खां को भी जल्द इंसाफ मिलेगा. उन्होंने कहा कि सत्ताधारियों का अन्याय व अत्याचार हमेशा नहीं चलता. इलाहाबाद उच्च न्यायालय के आदेश के बाद डॉक्टर कफील खान को मंगलवार मध्य रात्रि मथुरा जेल से रिहा कर दिया गया. जेल से रिहाई के बाद कफील ने से बातचीत में अदालत का शुक्रिया अदा किया. बता दें रामपुर लोकसभा सीट से समाजवादी पार्टी के सांसद आजम खान इन दिनों सीतापुर की जेल में बंद हैं. आजम खान के खिलाफ जमीन पर कब्जा करने, अवैध निर्माण कराने समेत कई मुकदमें दर्ज हैं. उनके अलावा बेटे अब्दुल्लाह आजम और पत्नी तंजीम फातिमा भी जेल में हैं.

 

 

मॉनसून सत्र में प्रश्नकाल को हटाना लोकतंत्र को कुचलने की कोशिश: विपक्ष
14 सितंबर से शुरू हो रहे मॉनसून सत्र से प्रश्नकाल को हटाने पर विपक्ष भड़क गया है. नाराज विपक्ष ने सरकार पर महामारी के बहाने लोकतंत्र को कुचलने का गंभीर आरोप लगाया है. कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने ट्वीट कर लिखा कि, मैंने पहले ही कहा था कि महामारी के नाम पर लोकतंत्र और विरोध को कुचलने का काम होगा. सरकार से सवाल पूछना लोकतंत्र की जरूरी शर्तों में शामिल है? टीएमसी सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने ये मुद्दा उठाते हुए लिखा – विपक्षी दलों के सांसदों ने सरकार से सवाल पूछने का अधिकार खो दिया. संसद के कामकाज के बाकी घंटे पहले की तरह ही हैं तो प्रश्नकाल क्यों रद्द किया गया? वहीं कांग्रेस के राज्यसभा सांसद राजीव शुक्ला ने प्रश्नकाल को संसद की सबसे बड़ी ताकत बताते हुए लिखा – ‘यह कैसे संभव है? सभापति और अध्यक्ष से इस मामले में दखल देने का आग्रह करता हूं.

अब TMC का ज़करबर्ग को पत्र- फेसबुक पर BJP से मिली भगत का लगाया आरोप
कांग्रेस के बाद अब ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस ने भी सोशल नेटवर्किंग कंपनी फेसबुक पर बीजेपी के साथ सांठगाठ के आरोप लगाए हैं. टीएमसी ने फेसबुक के सीईओ मार्क ज़करबर्ग को एक चिट्ठी लिखी है. जिसमें बीजेपी के फेवर में कथित झुकाव का मामला उठाया है. खबरों के मुताबिक टीएमसी के सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने ज़करबर्ग को लिखे पत्र में कहा कि भारत की दूसरी सबसे बड़ी विपक्षी पार्टी टीएससी को 2014 और 2019 के आम चुनाव में फेसबुक की भूमिका को लेकर गंभीर चिंताएं हैं. सांसद ने लिखा कि कई ऐसे सबूत मौजूद हैं, जो पक्षपात साबित करने को काफी हैं. दूसरी तरफ शनिवार को कांग्रेस ने फेसबुक के सीईओ मार्क ज़करबर्ग को दोबारा पत्र लिखा कर सवाल उठाए थे.

BJP के आधिकारिक यू ट्यूब चैनल पर लाइक- डिसलाइक हुआ ‘लॉक’
लगता है कि देश की सबसे बड़ी पार्टी बीजेपी सोशल मीडिया पर लगातार बढ़ रहे डिसलाइक्स और असहज करने वाले कमेंट्स से परेशान हो गई है. दरअसल पार्टी ने अपने आधिकारिक यू ट्यूब चैनल पर लाइक- डिसलाइक और कमेंट का ऑप्शन ही बंद कर दिया है. इस तब्दीली को जानकार पिछले दिनों मिले लाइक्स से ज्यादा डिसलाइक्स रिएक्शन को मान रहे हैं. दरअसल बीते रविवार को PM मोदी के ‘मन की बात’ कार्यक्रम को बीजेपी ने आधिकारिक यू ट्यूब चैनल पर डाला था. इस वीडियो को 86 फीसदी लोगों ने डिसलाइक किया है. इसके अलावा 1.3 लाख कमेंट्स में से अधिकतर JEE-NEET उम्मीदवारों की नाराजगी जाहिर करते हैं. हालांकि, बीजेपी ने बड़ी संख्या में डिसलाइक्स को परीक्षा के मुद्दे पर राजनीतिक विरोधियों का डिजिटल अभियान बताते हुए खारिज कर दिया है. लेकिन जब पार्टी ने अपने आधिकारिक चैनल पर कमेंट्स का ऑप्शन बंद किया तो कई सवाल उठने लगे हैं. हालांकि फिलहाल BJP की ओर से इस पर कोई आधिकारिक बयान नहीं दिया गया है.

अपमान हुआ, कांग्रेस छोड़ BJP में आएं सिब्बल-आजाद: अठावले
कांग्रेस पार्टी में जारी घमासान के बीच केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले गुलाम नबी आजाद और कपिल सिब्बल की हिमायत में उतर आए हैं. न्यूज एजेंसी एएनआई से उन्होंने कहा कि कांग्रेस प्रमुख के पद को लेकर विवाद है. राहुल गांधी ने सिब्बल, आजाद पर बीजेपी की तरफ से काम करने का आरोप लगाया है. अठावले ने कहा कि मैं सिब्बल और आजाद से कांग्रेस से इस्तीफा देने का अनुरोध करता हूं. उन्होंने कांग्रेस को आगे बढ़ाने में अपनी जिंदगी लगा दी, अगर उनका अपमान किया जा रहा है तो उन्हें बाहर निकलना चाहिए. वे बीजेपी में शामिल हो जाएं. ज्योतिरादित्य सिंधिया की तरह उन्हें भी पार्टी छोड़ देनी चाहिए. अठावले ने कहा कि राहुल गांधी का कांग्रेस को आगे बढ़ाने वाले लोगों को दोषी ठहराना गलत है.

राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर बोला हमला – नौकरी दो, खोखले नारे नहीं
राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर एक बार फिर हमला बोलते हुए कहा है कि सिर्फ खोखले नारे की बजाय युवाओं को नौकरी दीजिए. उन्होंने ट्वीट कर लिखा – ‘मोदी सरकार भारत के भविष्य को खतरे में डाल रही है. अहंकार की वजह से वो JEE-NEET आकांक्षियों की वास्तविक चिंताओं के साथ-साथ SSC और अन्य परीक्षा देने वालों की मांगों की अनदेखी कर रही है. नौकरी दो, खाली नारे नहीं.’ राहुल गांधी ने इस ट्वीट के लिए हैशटैग #SpeakUpForSSCRailwayStudents भी डाला है