जिला कारागार का जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक ने किया औचक निरीक्षण

प्रतापगढ़ (जितेन्द्र तिवारी)। जिलाधिकारी डा0 रूपेश कुमार एवं पुलिस अधीक्षक अनुराग आर्य ने आज जिला कारागार का औचक निरीक्षण किया गया। औचक निरीक्षण के दौरान बैंरकों की सघन तलाशी ली गयी और जेलर को निर्देशित किया कि नियमित रूप से साफ-सफाई करायी जाये तथा कोविड-19 संक्रमण के दृष्टिगत बैरकों में बन्द कैदियों के बीच आपस में सोशल डिस्टेसिंग का पालन कराया जाये जिससे कोरोना संक्रमण के खतरे से बचा जा सके और मच्छरों के बढ़ते प्रकोप को देखते हुये नियमित रूप से फागिंग भी करवाये। निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने कारागार के नियंत्रण कक्ष में सी0सी0टी0वी0 के डिस्प्ले को भी देखा।

निरीक्षण में जिलाधिकारी ने पाया कि कैदियों के बैरकों में सामान रखने की व्यवस्था ठीक ढंग से नही है जिस पर जेलर को निर्देशित किया गया कि कैदियों के सामान रखने की व्यवस्था सुचार ढंग से सुनिश्चित की जाये। जिलाधिकारी ने जिला कारागार के अन्दर कैदियों के अस्पताल का भी निरीक्षण किया और कैदियों से दवा की उपलब्धता व ईलाज की समुचित व्यवस्था के सम्बन्ध में जानकारी ली तो कैदियों द्वारा बताया गया कि सम्पूर्ण व्यवस्थाये प्राप्त हो रही है। जिला कारागार में जिलाधिकारी ने कैदियों से बात-चीत कर उनकी समस्याओं के बारे में जानकारी ली और यह भी पूछा कि किस कारण से जेल में बन्द किये गये हो।

निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने जेलर को सतर्क दृष्टि रखने हेतु निर्देशित किया गया कि प्रतिदिन समस्त बैरकों में बन्दियों की सघन तलाशी करायी जाये यदि किसी बन्दी के पास कोई आपत्तिजनक वस्तुयें बरामद हो तो तत्काल सम्बन्धित के विरूद्ध नियमानुसार कार्यवाही भी सुनिश्चित की जाये।

कारागार के अन्दर बन्दियों के पलायन में सहायक वस्तुयें जैसे सीढ़ी, रस्सी व सरिया सुरक्षित स्थानों पर व बन्दियों की पहुॅच से सदैव दूर रखी जाये ताकि जेल से पलायन की स्थिति न उत्पन्न हो सके, साथ ही बन्दियों के भोजन गुणवत्ता की भी समय पर जांच कराते रहे तथा शौचालय एवं नालियों आदि की समुचित सफाई व्यवस्था सुनिश्चित करायी जाये। इस दौरान अपर जिलाधिकारी (वि0/रा0) शत्रोहन वैश्य, अपर पुलिस अधीक्षक पूर्वी सुरेन्द्र प्रसाद द्विवेदी एवं पश्चिमी दिनेश कुमार द्विवेदी, उपजिलाधिकारी सदर मोहन लाल गुप्ता भी उपस्थित रहे।