आज चुनाव आयोग सुना सकता है ‘साइकिल’ पर फैसला

उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी के नाम और चुनाव चिह्न साइकिल पर चुनाव आयोग आज फैसला सुना सकता है। उत्तर प्रदेश में पहले चरण के चुनाव के लिए कल से नामांकन की प्रक्रिया शुरू होगी।

पार्टी के दोनों गुट यानी अखिलेश और मुलायम सिंह खेमा आय़ोग के सामने अपनी दलीलें पेश कर चुके हैं। दोनों ही पक्षों के दावों पर चुनाव आयोग ने शुक्रवार को सुनवाई पूरी कर ली थी और अपना फैसला सुरक्षित रखा था।

सुनवाई के दौरान अखिलेश गुट ने अपना पक्ष रखते हुए कहा कि समाजवादी पार्टी के 90 प्रतिशत से अधिक सांसद, विधायक और पदाधिकारी उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के साथ हैं। इसलिए पार्टी का नाम और चुनाव चिह्न साइकिल उन्हें ही मिलना चाहिए।

अखिलेश गुट ने आयोग के पास 200 से अधिक विधायकों, सांसदों और विधान परिषद सदस्यों के हलफनामे सौंपे हैं। इसके अलावा पार्टी के विभिन्न स्तर के छह हजार से अधिक पदाधिकारियों के हलफनामे भी आयोग को दिए गए हैं।