‘ऊर्जा मित्र एप्‍प’ लांच और ग्रामीण फीडर निगरानी योजना को सम्बोधित करते हुए: पीयूष गोयल

Subscribe My channel ► Khabar Junction 

नई दिल्ली: केन्‍द्रीय विद्युत, कोयला, नवीन और नवीकरणनीय ऊर्जा तथा खान राज्‍य मंत्री (स्‍वतंत्र प्रभार) श्री पीयूष गोयल ने कहा है कि सरकार 24×7 किफायती, गुणवत्‍ता सम्‍पन्‍न और बिना बाधा के देश को बिजली देने की तैयारी के काम में लगी है। श्री पीयूष गोयल ‘ऊर्जा मित्र एप्‍प’ लांच कर रहे थे और ग्रामीण फीडर निगरानी योजना का उद्घाटन कर रहे थे।

श्री गोयल ने कहा कि आज बिजली सूचना साझा करने से आती है, सूचना को दबाये रखने से बिजली नहीं आती। ऊर्जा मित्र नागरिकों को बिजली सप्‍लाई पर वास्‍तविक समय में सूचना साझा करने का अधिकार प्रदान करता है। यह एप्‍प अपनी किस्‍म का पहला एप्लीकेशन है, जिसमें सेंट्रल प्‍लेटफार्म, वेब पोर्टल(www.urjamitra.com) तथा मोबाइल एप्‍प (iOS वर्जनतथा एंड्रोऍड वर्जन) है।

एसएमएस/ईमेल/पुश नोटिफिकेशन के माध्‍यम से देश के शहरी/ग्रामीण उपभोक्‍ताओं में बिजली कटने की सूचना के लिए सुविधा है। श्री गोयल ने मंत्रालय के अधिकारियों से और अधिक मेहनत करने और बिजली कटौती शून्‍य करने और उसके परिणाम स्‍वरूप 24×7 सभी को बिजली देने के काम को सुनिश्चित करने का अनुरोध किया है।

विद्युत मंत्री ने यह भी बताया कि पूरे देश के उपभोक्‍ताओं को बिजली कटौती की अवधि और कारण की पहले से सूचना उपलब्‍ध होगी। उपभोक्‍ता देश केकिसी भाग में बिजली कटौती को वास्तविक समय पर देख सकेंगे। अपने क्षेत्र में बिजली कटौती की शिकायत दर्ज करा सकेंगे। शिकायत हेल्‍पलाइन नम्‍बर 1912 पर भी दर्ज कराई जा सकती है। विभिन्‍न भाषाओं में मोबाइल एप्‍प उपलब्‍ध कराकर समाज के सभी वर्गों की अधिकारिता को सुनिश्चित किया गया है। फील्‍ड कर्मचारी बिजली कटौती की जानकारी ले सकेंगे और शिकायत पर सुधार के कदम उठा सकेंगे।

ऊर्जा मित्र एप्‍प की उपयोगिता पर श्री गोयल ने कहा कि यह देश में लाखों लोगों के लिए जीवन में बदलाव वाला साबित होगा। उन्‍होंने राज्यों से आग्रह किया कि वे इस प्रयास में शामिल हों ताकि देश में कहीं भी बिजली कटौती की समस्‍या हो लोग अग्रिम रूप से और वर्तमान परिदृश्‍य में इसकी जानकारी प्राप्‍त कर सकें। इससे अस्‍पतालों में अनेक लोगों की जान बचाई जा सकेगी। लोग अपने पढ़ने-लिखने के समय को बेहतर रूप दे सकेंगे और दैनिक घरेलू कामकाज भी कर सकेंगे।

ग्रमीण फीडर निगरानी की चर्चा करते हुए श्री गोयल ने बताया कि सरकार ने देश के ग्रामीण क्षेत्रों में बिजली सप्‍लाई की मात्रा और गुणवत्‍ता मानकों की निगरानी के लिए ग्रामीण फीडर निगरानी योजना लॉंच किया गया है। वास्‍तविक समय आधार पर नेशनल पावर पोर्टल (एनपीपी) पर पूरा डॉटा डाला जाएगा और वेब सेवाओं के माध्‍यम से विभिन्‍न हितधारक अपनी पहुंच बना सकेंगे। श्री गोयल ने बताया कि सरकार ने 100 प्रतिशत ग्रामीण फीडर निगरानी की ृ समय सीमा दिसम्‍बर 2017 तय की है। ऐसा देश के सभी फीडरों में अतिरिक्‍त मीटर और मॉडम लगाकर किया गया है।

श्री गोयल ने यह घोषणा भी की कि बाबा साहेब भीमराव अम्‍बेडकर जयंती पर 14 अप्रैल 2017 को उत्‍तर प्रदेश, भारत सरकार के साथ ‘सभी के लिए बिजली’ दस्‍तावेज पर हस्‍ताक्षर करेगा। ‘सभी के लिए बिजली’ कार्यक्रम में शामिल होने वाला उत्‍तर प्रदेश अन्तिम राज्‍य है।

इस अवसर पर विद्युत सचिव श्री पी के पुजारी ने कहा कि इस एप्‍प से प्रणालीगत सुधार करने का दबाव पड़ेगा, पारदर्शिता बढ़ेगी और देश में बिजली सप्‍लाई प्रणाली में उत्‍तरदायित्‍व निर्धारित होगा। संयुक्‍त विद्युत सचिव श्री अरूण कुमार वर्मा ने कहा कि गामीण भारत में गुणवत्‍ता सम्‍पन्‍न जीवन सुनिश्चित करने के लिए बिजली की गुणवत्‍ता और उपलब्‍धता बढ़ानी होगी।

इस अवसर पर अपर सचिव विद्युत श्रीमती शालिनी प्रसाद, आंध्र प्रदेश के प्रधान सचिव (ऊर्जा) श्री अजय जैन, सीईए के अध्‍यक्ष श्री आर के वर्मा तथा मंत्रालय तथा आंध्र पदेश और ओडिशा के विद्युत विभाग के वरिष्‍ठ अधिकारी भी उपस्थित थे।