देशज पद्धतियों को अपनाकर खेती को समृद्ध करें – तोमर

ग्वालियर, कृषि की देशज पद्धतियों को अपनाकर खेती को समृद्ध करें। सरकार से इसमें हर संभव सहयोग मिलेगा। यह बात केन्द्रीय पंचायतीराज, ग्रामीण एवं शहरी विकास मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने कही। तोमर बलराम जयंती एवं किसान दिवस के उपलक्ष्य में आयोजित किसान सम्मान समारोह को संबोधित कर रहे थे। नंदलाल बाल कल्याण समिति के तत्वावधान में आयोजित इस सम्मेलन की अध्यक्षता सांसद एवं प्रदेश भाजपा अध्यक्ष नंदकिशोर चौहान ने की। तोमर ने इस अवसर पर किसानों को संकल्प से सिद्धि के तहत भारत के नव निर्माण के लिये संकल्प भी दिलाये।

केन्द्रीय मंत्री तोमर ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने “संकल्प से सिद्धि” में वर्ष-2022 तक कृषि आय दोगुनी करने का संकल्प शामिल किया है। उन्होंने कहा सरकार का मानना है कि किसान उठेगा तो देश उठेगा। इसलिये सरकार ने किसानों के कल्याण के लिये तमाम सुविधायें और योजनायें शुरू की हैं। उन्होंने कहा कि इस लक्ष्य की पूर्ति तभी होगी जब किसान भी समर्पित भाव से बदलाव के लिये आगे आयेंगे। तोमर ने कहा कि रासायनिक खादों से खेतों की उर्वरा शक्ति समाप्त हो रही है। इसलिये किसान देशज पद्धतियों को अपनाकर जैविक खेती करें।