‘झूठे वादों और नफरत की सियासत की हुई हार’: अखिलेश यादव

लखनऊ। समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव परिणामों से साफ हो गया है कि जनता बीजेपी के झूठे वादों और जाति-संप्रदाय की राजनीति से ऊब चुकी है और अब उनके बहकावे में नहीं आने वाली है।

उन्होंने छत्तीसगढ़, राजस्थान और मध्य प्रदेश समेत पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव में बीजेपी के निराशाजनक प्रदर्शन के बाद यहां एक बयान में कहा कि इन राज्यों में जनता की एकजुटता ने ही बीजेपी को सत्ता से बेदखल किया है। सपा अध्यक्ष ने कहा कि बीजेपी ने इन चुनावों में समाज को तोड़ने और नफरत फैलाने में ही अपनी सारी ताकत लगा दी थी। उसने जनता के बुनियादी मुद्दों से ध्यान भटकाने की साजिशें कीं। बीजेपी सत्ता के अंहकार में इतनी डूबी थी कि उसने किसानों, गरीबों, नौजवानों की आकांक्षाओं को ही कुचलना शुरू कर दिया।

सपा अध्यक्ष ने कहा कि इन चुनावों में जनता ने राज्य के सत्ता प्रतिष्ठानों के साथ केन्द्र और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के खिलाफ भी नाराजगी जताई है। इन चुनाव नतीजों का असर निश्चित रूप से अगले साल के लोकसभा चुनाव पर पड़ेगा। सपा बीजेपी की जनविरोधी, विकास विरोधी एवं साम्प्रदायिक राजनीति को उत्तर प्रदेश में करारी शिकस्त देगी।