प्रयागराज :सरकार की सहायता पाकर किसान किस तरह कर सक्ता है अपनी आय दोगुना?

प्रयागराज। प्रयागराज जिले में सोरांव तहसील के गद्दोपुर ग्राम सभा में द मिलियन फार्मर्स स्कूल किसान पाठशाला का चार दिवसीय आयोजन किया गया प्रदेश सरकार के द्वारा चलाई जा रही किसान पाठशाला का मुख्य उद्देश्य किसानों तक प्रदेश सरकार के द्वारा कृषि विभाग के सौजन्य से मिलने वाली सुविधाएं को पहुंचाना और किसानों को कृषि से संबंधित जानकारियों को अवगत कराना प्रदेश में कुल 261 .47 हेक्टेयर क्षेत्रफल में विभिन्न फसलें बोई जाती है।

प्रदेश में लगभग 2 . 33 करोड़ कृषक परिवार है जिसमें से 92.5% किसान लघु और सीमांत श्रेणी के हैं वर्तमान सरकार द्वारा प्रदेश के किसानों की आय 2017 से 2022 तक की अवधि में दोगुना करने का संकल्प लिया गया है जिसकी दृष्टिगत सरकार द्वारा कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए प्रधानमंत्री जी के गतिशील नेतृत्व एवं प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कुशल मार्ग निर्देशन में इन कार्यक्रमों को सफल क्रियान्वयन निश्चित रूप से प्रदेश के किसानों की आय में वृद्धि होगी किसान पाठशाला में किसानों को कृषि के बारे में संपूर्ण जानकारी दी जाती है।

रवि की फसल प्रमुख फसलें मुख्य प्रजातियां बीजों पर अनुदान प्रभावी बिंदु मुद्रा स्वास्थ्य कार्ड एवं फसल के घोषित समर्थन मूल्य प्राकृतिक संसाधनों का संरक्षण एवं टिकाऊ खेती के उपाय कृषि निवेश तथा बीज उर्वरक कृषि रक्षा रसायनों का महत्व कृषि यंत्रीकरण सोलर पंप जल प्रबंधन सिंचाई उन्नत पशुपालन दुग्ध उत्पादन की जानकारी पशुपालन विभाग की योजनाएं मत्स्य पालन प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना मुख्यमंत्री किसान एवं सर्वहित बीमा योजना किसान क्रेडिट कार्ड रुपे कार्ड रवि बीजों पर अनुदान क्रेंद्र और राज्य द्वारा पोषित योजनाएं को पहुंचाना।

कृषि विभाग के किसान पाठशाला कार्यक्रम में किसानों को जानकारी देते कृषि अधिकारी

अश्वनी कुमार

उद्यान विभाग की योजनाएं पोस्ट हार्वेस्ट मैनेजमेंट संरक्षित खेती एवं कृषकों की आमदनी बढ़ाने के तरीके कृषि विविधीकरण कृषि वानिकी एवं पारदर्शी किसान सेवा योजना मोबाइल एप की जानकारी देना, फसल सुरक्षा एकीकृत नासी जीव प्रबंधन विभिन्न परिस्थिति की संसाधनों द्वारा कीट रोग नियंत्रण योजना के अंतर्गत अनुमन्य सुविधाएं तथा सहभागी फसल निगरानी एवं निदान प्रणाली की जानकारी देना, पारदर्शी किसान सेवा योजना एवं डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर की जानकारी देना, किसान पाठशाला का मुख्य उद्देश्य यह सारी जानकारियां देना है और किसानों को रजिस्ट्रेशन करा कर उनका अधिकार उन तक पहुंचाना, जैसे ऑनलाइन पंजीकरण से लेकर किसान भाई उर्वरक बीज रसायन को लेने में उनको किसी प्रकार की परेशानी नहीं होती बड़े ही आसान तरीके से उनको अपने ब्लॉक में बीज उर्वरक कीटनाशक दवाएं उपलब्ध हो जाती है।

किसान पाठशाला का मुख्य उद्देश्य हर किसान को जागरूक बनाना जो किसान दलालों के माध्यम से काम करवाते थे वह डायरेक्ट अपने खेतों में बुवाई हेतु बीज खाद और संसाधनों की जरूरतों के लिए स्वयं संपर्क करके उन जरूरतों को प्रदेश सरकार के योजनाओं के माध्यम से ले सकते हैं और प्रदेश सरकार की तरफ से संसाधनों पर छूट मिलती है उसका लाभ ले सकते हैं किसान पाठशाला का मुख्य उद्देश्य किसानों को जागरूक बनाना उनकी आय दुगनी बनाना।

[ ब्यूरो रिपोर्ट प्रयागराज ]