किसान पात्रता अनुसार 40 क्विंटल तक चना व सरसों एक दिन में बेच सकता है

इस ख़बर को शेयर करें:

मुरैना @ प्रमुख सचिव सहकारिता के.सी. गुप्ता ने कहा है कि किसान अपनी पात्रता के अंदर 40 क्विंटल तक चना सरसों एक दिन में बेच सकता है। प्रमुख सचिव गुप्ता गुरूवार को जिले में समर्थन मूल्य पर उपार्जन किये जा रहे सरसों,चना, गेंहू, मसूर के खरीदी केन्द्रों के निरीक्षण करने पहुंचे थे। उन्होने कृषि उपज मंडी जौरा में कृषि साख सहकारी समिति मैनाबसई और देवगढ द्वारा सरसों,चना, मसूर की खरीदी की अपडेट जानकारी हांसिल की। उन्होने कहा कि किसान अपनी पात्रता के अनुसार 40 क्विंटल तक चना सरसों एक दिन में बेच सकता है।

किसान 40 क्विंटल से अधिक मात्रा नही लाये, उनको पुन: एस.एम.एस. करने पर ही लायेंगे। जिन किसानों को एसएमएस किये गए है, वे किसान उसी तारीख में अपनी उपज लेकर उपार्जन केन्द्र पर लाये। बिना एसएमएस के किसान अपनी उपज लेकर खरीदी केन्द्र पर नही आये। इससे भीड बढती है तथा अव्यवस्था होती है। प्रमुख सचिव ने उपार्जन केन्द्र प्रभारियों को निर्देश दिए कि हम्मालों की संख्या में वृद्धि की जावें। उन्होने जिला प्रबंधक आपूर्ति निगम जैन को निर्देश दिए कि परिवहन का तत्काल भुगतान किया जावे ताकि परिवहन कार्य तीव्र गति से किया जा सके। मौके पर मार्कफेड प्रभारी विनोद कोटिया को जौरा कृषि उपज मंडी समिति स्थित सरसों,चना खरीदी केन्द्र पर उपस्थित रहकर संपूर्ण खरीदी की सहज व्यवस्था बनाने हेतु निर्देशित किया गया।

प्रमुख सचिव ने निर्देशित किया कि परिवहनकर्ता के उसी रेट पर अन्य वाहन मार्केट से प्राप्त होते है तो उनसे भी परिवहन का कार्य करवाया जा सकता है तथा आपूर्ति निगम उनका पैमेंट करें। उन्होने कहा कि 28 अप्रेल तक सरसों,चना खरीदी का किसानों को भुगतान हेतु 1 करोड 57 लाख रूपये समिति के खाते में जमा हो चुका है। समिति प्रबंधक किसानों को सीधे उनके खाते में पैमेंट एक दो दिन में करना सुनिश्चित करे। भुगतान प्रक्रिया निरतंर जारी रहेगी। उन्होने हम्माल एवं परिवहन वाहन बढाये जाने के निर्देश भी दिए। बी.टी. बारदाने का बजन 580 ग्राम ए.टी. बारदाने का बजन 989 ग्राम से अधिक नही तौला जावें।

इसके पूर्व प्रमुख सचिव को अपडेट जानकारी देते हुए मैना बसई के प्रभारी ने बताया कि सरसों चना के कुल पंजीकृत 3391 किसानों में से 1369 किसानों को एसएमएस किये गए है। 2022 शेष किसान है। इसी प्रकार देवगढ समिति द्वारा चना सरसों मसूर के 633 किसानों का पंजीयन किया गया है। इनमें से 57 किसानों को एसएमएस भेजना शेष है। इस प्रकार प्रमुख सचिव ने उपस्थित अधिकारियों को हिदायत देते हुए कहा कि समस्त पंजीकृत किसानों को एसएमएस प्रथम चक्र में दो दिन में पूरे भेज दिए जावें। इसके पश्चात जिन किसानों को पहले एसएमएस भेजे जा चुके है, किन्तु वे अपना सरसों,चना उपार्जन केन्द्र पर बेचने नही आये है, उन्हें पुन: रिपीट एसएमएस किये जावे। मौके पर प्रमुख सचिव के.सी.गुप्ता के साथ कलेक्टर भास्कर लाक्षाकार, जिला आपूर्ति नियंत्रक, भास्कर शर्मा, सहकारिता तथा जिला विपणन अधिकारी विनोद कोटिया उपस्थित थे।