फटा फट ख़बरें 23 Aug 2020: बस कुछ दिन और ‘कोविशील्ड’ नाम वैक्सीन तैयार कर रहा है ‘सीरम इंस्टिट्यूट’

आतंकी अबू युसूफ के बलरामपुर स्थित घर से मिला बड़ी मात्रा में विस्फोटक
दिल्ली में मुठभेड़ के बाद पकड़े गए आतंकी अबू यूसुफ के यूपी के बलरामपुर स्थित घर से पुलिस ने बम बनाने का सामान जब्त किया है. जो सामान मिला है उसमें दो विस्फोटकों से बंधी जैकेट, एक विस्फोटक बंधी बेल्ट, 9 किलो विस्फोटक, बॉल बेयरिंग, ISIS का झंडा और कई अन्य संवेदनशील सामग्री शामिल है. युसूफ की पत्नी ने समाचार एजेंसी एएनआई को बताया कि उसके पति ने घर में गन पाउडर समेत काफी दूसरा सामान जुटाया था जिसको लेकर वो हमेशा मना करती थी लेकिन युसूफ ने नहीं सुनी. वहीं युसूफ के पिता कफील अहमद ने कहा कि उनका बेटा ऐसे कामों में लिप्त रहा इसका उन्हें बेहद पछतावा है.

प्रणब मुखर्जी की हालत में कोई सुधार नहीं, अब भी वेंटिलेटर सपोर्ट पर
दिल्ली में आर्मी के रिसर्च एंड रेफरल हॉस्पिटल में भर्ती पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की तबीयत में कोई सुधार नहीं हुआ है. रविवार को अस्पताल की ओर से जारी नए हेल्थ बुलेटिन के मुताबिक, वो कोमा में हैं और उनकी हालत स्थिर है. डॉक्टरों ने बताया कि मुखर्जी अब भी वेंटिलेटर सपोर्ट हैं और उनके फेफड़ों में हुए संक्रमण का इलाज जारी है. डॉक्टरों की एक टीम लगातार उनकी सेहत पर नजर बनाये हुए है. 10 अगस्त को पूर्व राष्ट्रपति के सिर के पिछले हिस्से से ब्लड क्लॉट को हटाने के लिए सर्जरी भी की गई थी और इसके बाद से वो वेंटिलेटर सपोर्ट पर ही हैं. सर्जरी से पहले वो कोरोना पॉजिटिव भी पाए गए थे.

बस कुछ दिन और…फिर सरकार मुफ्त में लगवाएगी कोरोना वैक्सीन!
पुरी दुनिया को कोरोना वायरस की वैक्सीन का बेसब्री से इंजतार है. इस बीच भारत की पहली कोविड वैक्सीन को लेकर अच्छी खबर आ रही है. खबर है कि भारत में 73 दिनों में कोरोना की वैक्सीन आ जाएगी. ‘बिजनस टुडे’ की एक रिपोर्ट के मुताबिक, इस वैक्सीन का नाम ‘कोविशील्ड’ होगा, जिसे पुणे की कंपनी सीरम इंस्टिट्यूट तैयार कर रहा है. इस रिपोर्ट के मुताबिक राष्ट्रीय टीकाकरण कार्यक्रम के तहत भारत सरकार अपने नागरिकों को मुफ्त में टीके लगवाएगी. इसके लिए केंद्र सरकार एसआईआई से स्वयं ही वैक्सीन को खरीदेगी. केंद्र ने अगले साल जून तक सीरम इंस्टीट्यूट से 130 करोड़ भारतीय नागरिकों के लिए 68 करोड़ खुराक की मांग की है. सरकार इस वैक्सीन का ट्रायल तेजी से पूरा करने को मंजूरी दे चुकी है. बता दें कि शनिवार को भारत में Covishield वैक्सीन के फेज-3 ट्रायल की पहली खुराक दी गई. दूसरी खुराक 29 दिन के बाद दी जाएगी. दूसरी खुराक देने के 15 दिन बाद ट्रायल का आखिरी डेटा सामने आएगा.

दिल्ली: डिप्टी CM ने केंद्र से की अपील, रद्द हो JEE-NEET की परीक्षाएं
जेईई और नीट परीक्षा लिए जाने के विरोध में दिल्ली सरकार भी कूद गई है. दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने केंद्र सरकार से अपील किया है कि वह कोरोना वायरस की स्थिति को देखते हुए जेईई और नीट की प्रवेश परीक्षा रद्द कर दें. उन्होंने यह भी कहा कि इस साल एडमिशन का कोई दूसरा तरीका अपनाया जाए, और परीक्षा आयोजित ना की जाए. उन्होंने ट्वीट करके कहा कि परीक्षाओं की आड़ में केंद्र सरकार लाखों छात्रों की जिंदगी से खिलवाड़ कर रही है. दिल्ली के डिप्टी सीएम ने आगे कहा कि, केवल परीक्षा ही प्रवेश के लिए एक रास्ता है, यह एक अव्यवहारिक और रूढ़िवादी सोच को दर्शाता है. सिसोदिया ने इन परीक्षाओं का विरोध करते हुए कहा कि दुनिया भर में शिक्षण संस्थान एडमिशन के नए-नए तरीके अपना रहे हैं. तो फिर हम भारत में क्यों नहीं कर सकते.

IIPM के निदेशक अरिंदम चौधरी गिरफ्तार, टैक्स में गड़बड़ी का आरोप
इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ प्लानिंग मैनेजमेंट के डायरेक्टर अरिंदम चौधरी को सर्विस टैक्स चोरी मामले में गिरफ्तार कर लिया गया है. यह गिरफ्तारी यूजीसी की शिकायत पर हुई है. पुलिस ने अरिंदम चौधरी के एक और साथी को भी गिरफ्तार किया है. इन पर करीब 23 करोड़ रुपये के सर्विस टैक्स क्रेडिट अनुचित दावे से संबंधित आरोप हैं. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक यह गिरफ्तारी सेंट्रल जीएसटी विभाग के अधिकारियों ने की है. अरिंदम को गिरफ्तार करने के बाद दिल्ली की एक अदालत में पेश किया गया, जिसके बाद कोर्ट ने अरिंदम को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है. बता दें कि इससे पहले भी वह मार्च में गिरफ्तार किए जा चुके हैं. सीजीएसटी साउथ दिल्ली कमिश्नरेट ने वित्त अधिनियम की धारा 89 के तहत अरिंदम चौधरी को गिरफ्तार किया था.

 

 

मोर के साथ मोदी की जुगलबंदी, प्रधानमंत्री ने शेयर किया वीडियो
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का प्रकृति के प्रति प्रेम किसी से छिपा नहीं है. वो समय समय पर इस बारे में जिक्र भी करते रहते हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने इंस्टाग्राम पेज पर एक बेहद सुंदर कविता के साथ वीडियो शेयर किया है. इस वीडियो में प्रधानमंत्री मोदी कई बार मोर को अपने हाथों से दाना खिलाते दिखाई दे रहे हैं. तस्वीरों में दिखने वाले मोर उनकी सुबह की सैर के दौरान साथी होते हैं. पीएम मोदी नियमित टहलने के बाद मोरों को दाना खिलाते हैं. यह पीएम मोदी की दिनचर्या में शामिल है, जिसकी तस्वीरें सामने आई हैं. पीएम मोदी इससे पहले भी अपने बगीचे में योगा करने के दौरान दिखाई दे चुके हैं. प्राकृतिक सुंदरता के प्रति गहरे लगाव के चलते ही वह अक्सर इनके बीच दिखाई देते हैं. पीएम मोदी द्वारा शेयर किया गया सोशल मीडिया पर खासा पसंद किया जा रहा है.

दिल्ली दंगों पर किताब छापने से ब्लूम्सबरी पब्लिशिंग का इंकार
इस साल की शुरुआत में उत्तर पूर्वी दिल्ली में हुई हिंसा पर आधारित किताब “Delhi Riots 2020 – The Untold Story” को लेकर हुए विवाद के बाद ब्लूम्सबरी इंडिया ने इसे वापस लेने का फैसला लिया है. ये किताब 22 अगस्त को लॉन्च होने वाली थी. इसके लॉन्च इवेंट में बीजेपी नेता कपिल मिश्रा गेस्ट ऑफ हॉनर थे. मिश्रा पर दिल्ली हिंसा से पहले नफरती भाषण देने के आरोप लगे हैं. पब्लिशर के मुताबिक उनकी जानकारी के बिना किताब के बारे में एक ऑनलाइन कार्यक्रम का आयोजन किया गया था. ब्लूम्सबरी इंडिया ने बयान जारी कर कहा कि फरवरी में हुए दिल्ली दंगे के बारे में वे लोग सितंबर में “Delhi Riots 2020 – The Untold Story” छापने वाले थे, पर लेखकों ने किताब के प्री-लॉन्च कार्यक्रम में ऐसे लोगों को बुलाया, जिसे स्वीकार नहीं किया जा सकता है. पब्लिकेशन हाउस की ओर से कहा गया है कि ब्लूम्सबरी इंडिया मजबूती के साथ अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का समर्थन करता है, लेकिन इसमें समाज के प्रति जिम्मेदारी का भी बोध है. इस किताब की लेखिका प्रोफेसर सोनाली चितलकर, मोनिका अरोड़ा और प्रोफेसर प्रेरणा मल्होत्रा हैं.

गुपकार घोषणापत्र: आर्टिकल 370 पर जम्मू-कश्मीर के नेताओं की लामबंदी
आर्टिकल 370 के खत्म होने और जम्मू-कश्मीर के विभाजन के सालभर बाद जम्मू-कश्मीर की 6 मुख्य पार्टियां साथ आई हैं. सभी 6 पार्टियों ने ‘गुपरकार घोषणा’ के नाम पर हाथ मिलाया है और कसम खाई है कि आर्टिकल 370, 35-A, जम्मू-कश्मीर के संविधान और राज्य को फिर से एक करने के लिए संघर्ष करेंगे. सभी नेताओं ने साझा बयान जारी कर संघर्ष जारी रखने की बात कही है. बयान के मुताबिक 5 अगस्त 2019 के बाद जम्मू-कश्मीर और नई दिल्ली के रिश्तों में बहुत बड़ा बदलाव आया. इस साझा बयान पर नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता फारुक अब्दुल्ला, पीडीपी नेता महबूबा मुफ्ती, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सजाद गनी लोन, सीपीएम नेता तारिगामी और आवामी नेशलन कॉन्फ्रेंस नेता मुजफ्फर शाह का नाम है.

देश में कोरोना का आंकड़ा 30 लाख के पार, एक दिन में गई 912 लोगों की जान
देश में कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में लगातार तेजी देखने को मिल रहा है. भारत में बीते 24 घंटे में कारोना वायरस के 69,239 नए पॉजिटिव केस सामने आए हैं, वहीं 912 मरीजों की जान चली गई. स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा रविवार सुबह जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार, देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 30 लाख 44 हजार 940 हो गई है. 30 लाख का आंकड़ा पार होने में 206 दिन लगे हैं. भारत में अब तक कोरोना संक्रमण से 56,706 लोगों की जान जा चुकी है. लेकिन अच्छी बात यह है कि संक्रमण से स्वस्थ होने वाले लोगों की संख्या साढ़े 22 लाख से ज्यादा हो गई है और जांच में रिकॉर्ड तेजी आई है. देश में कुल 7 लाख 7 हजार 668 कोरोना के एक्टिव केस हैं. रिकवरी रेट की बात करें तो यह मामूली बढ़ोतरी के बाद 74.89 प्रतिशत पर पहुंच गया है. पॉजिटिविटी रेट 6.82 प्रतिशत है. देश के लगभग सभी राज्यों से कोरोना मरीज सामने आ रहे हैं. लेकिन महाराष्ट्र इस महामारी से सबसे ज्यादा प्रभावित है.

खिलौना बाजार में अपनी पकड़ मजबूत करेगा भारत, PM मोदी ने किया मंथन
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आत्मनिर्भर भारत अभियान पर लगातार जोर दे रहे हैं. आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत अब स्वदेशी खिलौने के मेन्युफैक्चरिंग पर जोर दिया जाएगा. देश मे बच्चों के खिलौने बनाने को बढ़ावा देने के मकसद से पीएम नरेंद्र मोदी ने अन्य कैबिनेट मंत्रियों और उच्च अधिकारियों के साथ अहम बैठक की. बैठक में पीएम मोदी ने भारतीय खिलौनों का उत्पादन बढ़ाने की बात कही. पीएम मोदी ने कहा कि भारत में कई समूहों और हजारों कारीगर ऐसे हैं जो स्वदेशी खिलौने का उत्पादन करते हैं. बैठक मे पीएम मोदी ने तमाम मंत्रालय को आदेश दिया कि ऐसी नीति और माहौल बनाया जाए ताकि राज्यों में प्लास्टिक टॉय बनाने के लिए क्लस्टर बनाए जा सकें. ये विशेष क्लस्टर ना केवल देश मे बच्चों के लिए खिलौने बनाएंगे बल्कि देश मे बने खिलौने विदेशों में भी एक्सपोर्ट किए जा सके. बता दें कि भारतीय बाजार में चीन के खिलौनों का बोलबाला रहा है. लेकिन बीते जून महीने से गलवान घाटी में तनाव के बाद चाइनीज सामान के बहिष्कार की मुहिम चरम पर है.

कश्मीर पर दिए चीन और पाकिस्तान के साझा बयान का भारत ने किया खंडन
कश्मीर को भारत का अभिन्न अंग और अंदरूनी मामला बताते हुए भारत ने चीन और पाकिस्तान के साझा बयान का खंडन किया है. इस साझा बयान में कहा गया था कि दोनों देशों के बीच ये ऐतिहासिक विवाद है जिसे संयुक्त राष्ट्र और सुरक्षा परिषद के जरिए सुलझाया जाए. इस पर भारत ने कहा है कि कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है और दोनों देश इस मामले में दखल न दें. इसके साथ ही भारत ने CPEC कॉरिडोर का मुद्दा भी उठाया और कहा कि इस कथित कॉरिडोर को लेकर दोनों देशों से भारत ने अपनी चिंता जाहिर की है. ये भारतीय इलाके में बन रहा है जिसपर पाकिस्तान ने अवैध कब्जा किया हुआ है. बता दें कि कश्मीर मुद्दे को अंतर्राष्ट्रीय मंच पर ले जाने की मांग पर OIC और सउदी अरब से मिली ठंडी प्रतिक्रिया के बाद पाकिस्तान ने चीन का रुख किया.

LAC पर भारत बनाए रखेगा अपनी मौजूदगी, रक्षामंत्री ने की हाई लेवल मीटिंग
लद्दाख में सीमा पर चीन के साथ बरकरार तनाव के बीच रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने शनिवार को एक हाई लेवल मीटिंग की. इस मीटिंग में एनएसए अजीत डोभाल, तीनों सेनाओं के प्रमुख समेत सीडीएस बिपिन रावत मौजूद थे. मीटिंग में थलसेना प्रमुख नरवणे ने सेना की तैयारियों को लेकर एक प्रेजेंटेशन भी दिया. मौजूदा हालातों को देखते हुए अनुमान लगाया गया है कि भारत किसी कीमत पर चीन से लगती हुई अपनी सीमा पर मौजूदगी कम नहीं करना चाहता. साथ ही चीन के अप्रैल वाली स्थित को फिर से बनाने की मांग पर अड़ा हुआ है. वहीं आगामी सर्दियों को देखते हुए सेना ने अपनी तैयारियां बढ़ा दी हैं और सीमा पर मौजूद अपने कमांडरों से आक्रामकता जारी रखने के लिए कहा है. रिपोर्ट्स के मुताबिक चीन सीमा पर तनाव को कम करने को लेकर गंभीर नहीं है.

24 घंटे के भीतर पलटा पाकिस्तान, कहा- हमारी जमीन पर नहीं है दाऊद
दाऊद इब्राहिम को लेकर किए गए अपने कबूलनामे से 24 घंटे के भीतर ही पाकिस्तान ने पलटी मार दी है. पाकिस्तान ने दाऊद की मौजूदगी को आधिकारिक तौर पर नकार दिया है. पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय ने एक बयान जारी कर कहा कि डी कंपनी का सरगना दाऊद इब्राहिम उसके देश में नहीं है. उन्होंने कहा कि कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में कहा जा रहा है कि पाकिस्तान नए प्रतिबंध लगा रहा है. ये रिपोर्ट गलत है और इसमें जरा भी सच्चाई नहीं है. मंत्रालय ने कहा कि इसी तरह भारतीय मीडिया में दावा किया जा रहा है कि पाकिस्तान ने अपनी जमीन पर कुछ सूचीबद्ध व्यक्तियों की मौजूदगी को स्वीकारा है, ये दावा भी निराधार और भ्रामक है. बता दें कि शनिवार शाम को पाकिस्तान ने दाऊद इब्राहिम समेत 88 प्रतिबंधित आतंकवादी संगठनों और उनके आकाओं पर कार्रवाई करने का ढोंग किया था. इस लिस्ट में अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम का नाम शामिल कर पाकिस्तान ने स्वीकार किया था कि यह मोस्ट वांडेट आतंकी उसके देश में रह रहा है.

उम्मीद है दिसंबर तक भारत बना लेगा कोरोना वैक्सीन: डॉ. हर्षवर्धन
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने उम्मीद जताई है कि अगर सब ठीक रहा तो साल के आखिर तक भारत अपना कोरोना वैक्सीन हासिल कर लेगा. डॉ. हर्षवर्धन ने ट्वीट कर जानकारी दी कि तीन इंस्टीच्यूट्स देश में इसपर काम में लगे हैं. इनमें एक का ट्रायल पहले फेज़ में जबकि दूसरे का दूसरे फ़ेज़ में है, तो वहीं तीसरा संस्थान तीसरे चरण के क्लीनिकल ट्रायल के दौर में है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने ये भी कहा कि भारत कोरोना के मामले में दुनिया से बेहतर हालत में है, क्योंकि रिकवरी रेट 75 फीसदी के करीब आ गया है जबकि डेथ रेट पूरी दुनिया में सबसे कम 1.87 फीसदी है.

भारत पर जारी है कोरोना का वार, कुल केस हुए 30 लाख के पार
देश में कोरोना संक्रमण के कुल मामले शनिवार शाम 30 लाख के पार हो गए हैं, भारत दुनिया में संक्रमण के माामले में अमेरिका और ब्राजील के बाद तीसरे नंबर पर है. स्वास्थ्य मंत्रालय ने शनिवार सुबह जो आंकड़े जारी किए थे वो 29 लाख 75 हजार थे. बीते दिन करीब 70 हजार नए मामले दर्ज किए गए. मौतों की बात करें तो भारत में शनिवार शाम तक 56 हजार 800 के करीब मौतें हो चुकी हैं, जबकि 22 लाख 74 हजार के करीब लोग रिकवर हो चुके हैं. रिकवरी रेट अब 74.69 प्रतिशत पर पहुंच गया है तो पॉजिटिविटी रेट 6.82 प्रतिशत है. देश में 21 अगस्त को 10,23,836 कोरोना सैंपल टेस्ट किए गए. एक दिन में टेस्ट होने वाले सैंपल की यह अभी तक की सबसे बड़ी संख्या है. दुनिया की बात करें तो शनिवार रात 9 बजे तक दुनियाभर में कुल कोरोना केस 2 करोड़ 32 लाख के पार जा चुके थे, जबकि 8 लाख 5 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी थी.

आयुष सचिव के ‘हिंदी’ बयान पर बवाल, MP कनिमोई ने कहा सस्पेंड किए जाएं
हिंदी बोलने को लेकर आयुष मंत्रालय के सचिव वैद्य राजेश कोटेचा के बयान पर बवाल खड़ा हो गया है. अब DMK सांसद कनिमोई ने मांग की है के आयुष सचिव वैद्य राजेश कोटेचा को हटाया जाए. कनिमोई ने राजेश कोटेचा के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की भी मांग की है. दरअसल, 18 अगस्त से 20 अगस्त के बीच योग के मास्टर ट्रेनर्स के लिए आयुष और मोरारजी देसाई राष्ट्रीय योग संस्थान द्वारा आयोजित कार्यक्रम में तमिलनाडु के 33 सरकारी डॉक्टरों ने भाग लिया था, जिसमें कुल 300 से अधिक प्रतिभागी थे. इस कार्यक्रम में शामिल एक डॉक्टर के मुताबिक आयुष सचिव वैद्य राजेश कोटेचा ने वहां मौजूद सभी लोगों से कहा था कि मुझे अंग्रेजी पूरी तरह नहीं आती है. ऐसे में वे लोग यहां से जा सकते हैं जिन्हें हिंदी नहीं आती. उन्होंने कहा कि वो सिर्फ हिंदी में ही बोल सकते हैं. दरअसल इसी आयोजन में भाषा को लेकर कुछ समस्याएं आई थीं और वहां मौजूद लोगों ने इसको लेकर अपनी आवाज उठाई थी.

केंद्र ने राज्यों से कहा- लोगों और सामान के आने जाने पर न लगाएं पाबंदी
केंद्र सरकार ने राज्यों को कहा है कि वो एक राज्य से दूसरे राज्य के बीच लोगों और सामान के आवागमन पर रोक न लगाएं. केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला ने इस बाबत सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के मुख्य सचिवों को पत्र लिखा है. इसमें लिखा गया है कि, ऐसी खबरें मिली हैं कि विभिन्न जिलों और राज्यों द्वारा स्थानीय स्तर पर आवाजाही पर पाबंदी लगाई जा रही है. भल्ला ने कहा कि ऐसी पाबंदियों से माल और सेवाओं के आवागमन में दिक्कतें पैदा होती हैं और इसका असर सप्लाई चेन पर असर पड़ता है. इस वजह से आर्थिक गतिविधि और रोजगार दोनों पर असर पड़ता है. पत्र में ये भी कहा गया है कि ऐसा कोई भी बैन गृह मंत्रालय द्वारा जारी अनलॉक-3 के दिशा-निर्देशों का उल्लंघन है.

करीब 1 दर्जन राज्यों में ‘वीकेंड लॉकडाउन’, बढ़ते कोरोना केस से परेशान
अब कई राज्यों में वीकेंड लॉकडाउन लगाया जा रहा है. उत्तर प्रदेश के बाद अब पंजाब, असम, जम्मू-कश्मीर और महाराष्ट्र समेत करीब एक दर्जन राज्यों ने शनिवार-रविवार को लॉकडाउन का फैसला लिया गया है. दरअसल, देशव्यापी लॉकडाउन से सभी आर्थिक गतिविधियां ठप हो गईं थी, जिसके बाद केंद्र सरकार ने अनलॉक की प्रक्रिया शुरू की. लेकिन कोरोना के दिन-ब-दिन बढ़ते केस के चलते अब कई राज्यों ने वीकेंड लॉकडाउन का ऐलान किया है ताकि कोरोना पर कुछ लगाम लग सके और बाजारों में वीकेंड वाली भीड़ न जमा हो. बता दें कि, तमिलनाडु सरकार पहले ही राज्य में 31 अगस्त तक पूर्ण लॉकडाउन बढ़ा चुकी है.

गिरफ्तार ISIS आतंकी दिल्ली-UP में धमाके की रच रहा था साजिश: पुलिस
देश की राजधानी को दहलाने की साजिश को दिल्ली पुलिस ने नाकाम कर दिया है. दिल्ली पुलिस के मुताबिक मुठभेड़ में पकड़े गए कथित ISIS आतंकी अबू यूसुफ ने पूछताछ में कुछ बड़े खुलासे किए हैं. दिल्ली पुलिस ने दावा किया है कि पकड़े गए आतंकी से पूछताछ में पता चला है कि राम मंदिर निर्माण के विरोध में बम धमाका करने की साजिश थी. आपको बता दें कि सुबह ही मुठभेड़ में ISIS के खुरासान मॉडल के आतंकी को पकड़ने का पुलिस ने दावा किया है. दिल्ली पुलिस ने ये भी बताया है कि वो अफगानिस्तान में मौजूद अपने कुछ आकाओं के संपर्क में था. खबर है कि यूसुफ दिल्ली और उत्तर प्रदेश में धमाका करना चाहता था. पुलिस सूत्रों से ये खबर भी आई है कि उसने निशाने पर दिल्ली का एक बड़ा नेता भी था. अब इन तमाम इनपुट के बाद दिल्ली और यूपी में सुरक्षा एजेंसियां अलर्ट हैं. उत्तर प्रदेश एटीएस और दिल्ली पुलिस की एक टीम बलरामपुर में आरोपी आतंकी अबू युसूफ के गांव भी पहुंच गई है.

मीडिया ने जमातियों को ‘बलि का बकरा’ बनाया, बॉम्बे HC ने रद्द की FIR
महाराष्ट्र में दिल्ली निजामुद्दीन मरकज़ के विदेशी तब्लीगी जमातियों पर दायर की गई चार्जशीट और एफआईआर को बॉम्बे हाईकोर्ट की औरंगाबाद पीठ ने खारिज कर दिया है. शुक्रवार को कोर्ट ने बड़े ही सख्त लहजे में पुलिस और सरकार को फटकार लगाई. कोर्ट ने कहा कि मीडिया ने जमात के खिलाफ दुष्प्रचार किया और उसे को बलि का बकरा बनाया गया. अदालत ने यह भी कहा कि एक राजनीतिक सरकार किसी महामारी या आपदा के समय बलि का बकरा ढूंढने की कोशिश करती है और हालात बताते हैं कि इन विदेशियों को सरकार और मीडिया द्वारा बलि का बकरा बनाया गया था. मीडियो फटकारते हुए कोर्ट ने कहा कि जमातियों के खिलाफ देश की प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में संक्रमण का जिम्मेदार बताने का प्रॉपेगेंडा चलाया गया. पीठ ने इस मामले में मीडिया को माफी मांगने व जमातियों को हुए नुकसान के लिए पॉजिटिव कदम उठाने तक को कह डाला. वहीं हैदराबाद से सांसद और AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने कोर्ट के इस फैसले की सराहना करते हुए, मीडिया और बीजेपी पर जमकर हमला बोला.