गवाही बदलने से मना करने पर प्राणघातक हमला, आरोपियो की तलाश

इस ख़बर को शेयर करें:

जबलपुर। थाना गोरखपुर में मेडाज अस्पताल से सूचना मिली कि मारपीट में आयी चोटों के कारण कैलाश कोरी को उपचारार्थ भर्ती कराया गया है। सूचना पर पहुंची पुलिस को कैलाश कोरी उम्र 27 वर्ष निवासी गुरूद्वारे के पीछे टपरिया बस्ती ने बताया कि वह सिलाई का काम करता है दिनॉक 27-3-19 को चिम्पू, बिट्टू, हर्षित, उसे गोरखपुर पैट्रोलपंप के पास से उसे उठाकर ले गये थे एंव उस पर प्राणघातक हमला किया था उसकी रिपोर्ट पर थाना गोरखपुर में 307 एवं अपहरण का प्रकरण दर्ज किया गया था उक्त प्रकरण में उसकी कोर्ट में गवाही थी, बयान हुये थे, क्रास नहीं हुआ था, आज प्रातः 11-15 बजे वह शारदा टाकीज के पास चाय की दुकान के सामने खडे होकर चाय पी रहा था तभी लकी उर्फ जीशान अली , तरूण एंव राजेश गौड आये, और गवाही बदलने को कहने लगे, उसके मना करने पर लकी उर्फ जीशान अली , तरूण, राजेश गौड लाल रंग की एक्टीवा मंे बीच में उसे जबरन बैठाये, राजेश एक्टीवा चला रहा था लकी उसे पकडकर बैठा था, तरूण डीलक्स मोटर सायकिल मे था, उसे बिरमानी पैट्रोलपंप के सामने मैदान में ले गये और उसे गवाही बदलने को कहने लगे, उसने गवाही बदलने से मना किया तो तीनो ने उसकी हत्या करने की नीयत से उसके साथ डण्डे एवं हाथ मुक्को से मारपीट की है, मारपीट से सिर मे गम्भीर चोट तथा हाथ पैर , पीठ में भी चोटे आ गयी है, तीनो ने उसे मेडाज अस्पताल मे भर्ती कराया और चले गये, एक्टीवा पर नम्बर एमपी 20 एसएच 9920 लिख था।रिपोर्ट पर धारा 195ए, 365, 307,34 भादवि 3(2)व्ही एससीएसटी एक्ट का अपराध पंजीबद्ध कर आरोपी लकी उर्फ जीशान अली, तरूण, एवं राजेश गौड की गिरफ्तारी के प्रयास जारी है।