पिता के टिकट और वीजा पर बेटी आई भारत

इंदौर@ एयर टिकट और वीजा पर एक महिला और एक पुरुष को यात्रा करना थी, लेकिन पुरुष की जगह उसकी बेटी आ गई।क्राइम ब्रांच एएसपी के अनुसार नाइजीरिया की माइनात एडमिक बालोगन और उसकी बेटी सांईदोस फोलाक को गिरफ्तार किया गया था। उनके टिकट की जांच में पता चला कि बेटी की जगह महिला के पति को भारत आना था टिकट भी उसी के नाम पर बुक है।

संबंधित एयरलाइंस और एयरपोर्ट पर इसकी जांच क्यों नहीं हुई, यह बड़ी जांच का विषय भी है। महिला के वीजा में जिस अस्पताल में इलाज करने की बात दर्ज करवाई थी, वह भी झूठी थी औऱ महिला एम्स में अपने घुटने का इलाज कराती मिली थी।एक अन्य बड़ी लापरवाही टिकट बनाने की सामने आई है। जब इनका टिकट बनाया गया तो उसमें लिखा गया पासपोर्ट का नंबर ही गलत पाया गया। ऐसे में बाद में महिला कुछ फ्रॉड भी करती तो पकडना मुश्किल था। इसकी इंटरपोल के मार्फत जांच करवाई जाएगी कि टिकट का खेल कैसे हुआ।

पुलिस अफसरों को शंका है महिला के पति ने ही दोनों को भारत भिजवाया है। उसे भारत बुलवाया जा रहा है।डीआईजी ने कहा यह सबसे अलग केस है। इसकी छानबीन में गंभीरता बरती जा रही है। अभी सिर्फ दो महिलाएं आई हैं, जिन्हें जेल भेज दिया है। इंटरपोल और अन्य एजेंसी के मार्फत नाइजीरिया सरकार से संपर्क हुआ और वहां से और भी संदिग्ध लोगों को इंदौर बुलवाया जा रहा है। वे दो-चार दिन में आ सकते हैं।महिला के पति ने भारत आने के खर्च के महज 44 प्रतिशत रुपए ही जमा करवाए थे। एजेंट ने इन्हें एक स्कीम दी थी, जबकि उसने इंदौर की जोश ट्रेवल्स कंपनी को धोखा देकर 1.08 करोड़ रुपए का टिकट बुक करवाकर रुपए ही नहीं दिए थे।