पिता सिलाई करते हैं बेटी 12वीं में टॉपर, बताई ये ख्‍वाहिश

अगर किसी भी छात्र या छात्रा को पूरे राज्‍य की 12 बोर्ड में टॉप करने की उम्‍मीद नहीं हो, लेकिन अचानक उसे पता चले कि उसने टॉप किया है, तो उसके लिए इससे बड़ी खुशी की बात क्‍या हो सकती है. झारखंड में 12वीं की बोर्ड परीक्षा में आर्ट स्‍ट्रीम में टॉप करने वाली नंदिता हरिपाल ने बताया कि जब मैंने खबर सुनी तो मैं स्तब्ध रह गई. मुझे उम्मीद नहीं थी कि मैं राज्य की परीक्षा में टॉप करूंगी.

झारखंड बोर्ड की 12वीं की परीक्षा में आर्ट स्‍ट्रीम में टॉप करने वाली नंदिता का सपना एक पत्रकार बनना है. वह कहती है मैं पत्रकार बनना चाहती हूं. नंदिता के पिता एक टेलर है और घरेलू मदद का काम भी करते हैं.

बता दें कि झारखंड अकादमिक काउंसिल (Jharkhand Academic Council) की क्‍लास 12वीं की परीक्षा में नंदिता घरेलू मदद का काम करने वाले और सिलाई करके परिवार की आजीविका चलाने वाले व्‍यक्ति की बेटी है. नंदिता ने कहा, ”जब मैंने खबर सुनी तो मैं स्तब्ध रह गई. मुझे उम्मीद नहीं थी कि मैं राज्य की परीक्षा में टॉप करूंगी. मैं एक पत्रकार बनना चाहती हूं.”