वित्त मंत्री अरुण जेटली ने एच1बी वीज़ा के कड़े नियमों पर जताई चिंता

अमेरिका के दौरे पर गए वित्त मंत्री अरूण जेटली ने कल वित्त मंत्री स्टीवन न्यूचिन के साथ हुई बैठक में एच-1बी वीजा की नीति के नियमों को और कड़ा किए जाने से जुड़ी चिंताओँ को जताया।  भारत ने चिंता ज़ाहिर की है कि इस प्रतिबंध से भारतीय आईटी पेशेवरों का अमेरिका आना प्रभावित होगा। अमेरिका के वित्त मंत्री के साथ बैठक के दौरान जेटली ने भारतीय कंपनियों तथा पेशेवरों के अमेरिकी अर्थव्यवस्था में योगदान को भी रेखांकित किया।

Subscribe My channel ► Khabar Junction

जेटली ने कहा है कि भारत विश्‍व में सबसे तेजी के साथ विकास करने वाली अर्थव्‍यवस्‍था बना हुआ है तथा वस्‍तु और सेवाकर के लागू होने से इसके विकास की गति में और वृद्धि होगी। वहीं देश की टॉप आईटी कंपनियों टीसीएस और इंफोसिस पर अमेरिका ने H-1B वीजा के नॉर्म्स के वॉयलेशन का आरोप लगाया है। अमेरिका का कहना है कि ये कंपनियां लॉटरी प्रणाली… लॉटरी प्रणाली में ज्यादा टिकट डालकर गलत तरीके से एच-1 वीजा का बड़ा हिस्सा हासिल करती हैं। बता दें कि यूएस में लॉटरी सिस्टम से ये वीजा दिया जाता है।