पहली प्राथमिकता लोगों की जान बचाना ही हैं : कलेक्टर श्री यादव

जबलपुर । कलेक्टर भरत यादव ने आज कलेक्टर सभागार में कोरोना से बचाव व रोकथाम के लिये रैपिड रिस्पांस टीम व मेडिकल मोबाइल टीम की बैठक लेकर कहा कि हमारी पहली प्राथमिकता लोगों की जान बचाना है। अत: यह देखे कि कोविड 19 से किसी भी व्यक्ति की मृत्यु ना हो। कोविड पेशेंट को प्राथमिकता से इलाज करना सुनिश्चित करें। इसके लिए हर संभव प्रयास करें। संदिग्ध व्यक्तियों की पहचान कर उन्हें फीवर क्लीनिक में ले जाये, क्वारंटीन करें और आवश्यकता पड़ने पर विक्टोरिया में भेजें जहां से उन्हें मेडीकल या कोविड केयर सेंटर भेजा जायेगा। इस दौरान उन्होंने कहा कि सैंपलिंग की डाटा व मोबाइल नंबर सही हो ताकि लोगों के कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग हो सके । अधिक उम्र वाले मरीजों को देखें और उन्हें शीघ्र ही उपचार सुनिश्चित करें। समय पर लोगों के उपचार होने से मृत्यु की संभावना कम होती है।

उन्होंने कहा कि कोविड-19 में मृत्यु की डाटा का एनालिसिस करें और यह टारगेट बनाये की किसी भी कीमत पर कोविड पेशेंट की मृत्यु न हो। कंटेंटमेंट एरिया में यदि लोग नियमों का पालन नहीं करते हैं तो इसकी जांच संबंधित अधिकारी करें और नहीं मानते हैं तो सभी को क्वारेंटाइन करें। इस दिशा में एसडीएम, पुलिस अधिकारी व नगर निगम के अधिकारी सख्ती से काम करें। उन्होंने कहा कि लोगों की जान बचाना ही प्राथमिकता है, इसलिए कोविड पेशेंट को टाइम से शिफ्ट करें जहां उसका उपचार हो सके। इस दौरान जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी प्रियंक मिश्र, अतिरिक्त कलेक्टर हर्ष दीक्षित तथा मेडिकल ऑफिसर उपस्थित थे