दतिया : कट्टे की नौक पर महिला को बंधक बनाकर पांच लोगों ने किया गैंगरेप

इस ख़बर को शेयर करें:

दतिया। दतिया जिले के थाना लांच क्षेत्र के ग्राम स्यावरी निवासी एक महिला ने पांच लोगों पर गेंगरेप करने एवं बलपूर्वक बंधक बनाकर रखने, जान से मारने ली धमकी देने का आरोप लगाया पीड़िता ने यह आरोप आज एक होटल में पत्रकारों से मुखातिब होते हुए न्याय की गुहार लगाते हुए लगाए।

पीड़िता ने आपबीती सुनाते हुए कहा कि 3 फरवरी 2020 को रात्रि वह गांव स्यावरी में एक त्रेरहवी मे खाना खाने जा रही थी तभी कल्लू रावत पुत्र प्रीतम सिंह रावत निवासी स्वावरी एवँ चार अन्य लोगों बल्ली रावत निवासी ग्राम सतारी,किशन सिंह यादव निवासी ग्राम उचाड एवँ राजेन्द्र सिंह रावत निवासी स्वावरी ,मूलु चौहान निवासी ग्राम उचाड् ने बोलेरो गाड़ी में बेहोश कर डाल दिया एवँ कट्टा अड़ा दिया और चीखने चिल्लाने नही दिया।

पीड़िता ने आरोप लगाया कि उक्त पांचों लोग उसे बंधक बनाकर बोलेरो से नरसिंहपुर जिला के नोनिया गांव ले गए एवँ कट्टे की नोक पर सभी ने बारी बारी से दुष्कर्म किया। नोनिया से उसे डबरा में कल्लू रावत के मकान में रखा एवँ वहाँ गेंगरेप किया। डबरा के बाद उसे सेवढ़ा,दिनारा ले गए।

दिनारा में एक मकान में बंधक बनाकर रखा ओर बाहर से ताला डाल कर रखते थे। पीड़िता के मुताबिक वह दिनारा से इन लोगों के चंगुल से भागी ओर अपने घर स्वावरी पहुंची एवँ उसके बाद थाना लांच में रिपोर्ट दर्ज की। पीड़िता ने इस पूरी घटना का हवाला देते हुए 7 सितम्बर 2020 को एसपी दतिया को भी एक आवेदन दिया एवँ बताया कि आरोपी उसे एवँ उसके बच्चों को जान से मारने की धमकी दे रहे है।

पीड़िता का आरोप है की थाना लांच पुलिस ने केवल एक आरोपी कल्लू रावत के खिलाफ ही एफआईआर दर्ज की जबकिं रेप पांच लोगों ने किया। पत्रकारो के माध्यम से पीड़िता ने पुलिस प्रशासन एवं शासन से मांग की है कि इस मामले में शेष चार आरोपियों पर भो केस दर्ज किया जाए। यदि सभी पर केस दर्ज नही किया जाता है तो वह जान दे देगी।

इस मामले में थाना प्रभारी लांच का कहना है कि इस ममले की जांच महिला प्रकोष्ठ शाखा एसपी कार्यालय द्वारा की जा रही है वही एसपी अमन सिंह राठौर ने कहा कि आज इस तरह का केस लेकर कोई महिला हमारे पास नही आई है मामले की जांच कराकर साक्ष्यों के आधार पर कार्यवाही की जाएगी।