25 हजारी हिस्ट्रीशीटर 25 राउंड फायर के बाद पकडा गया, पुलिस ने 32 बोर पिस्टल व 315 बोर मसकट की बरामद

कैराना। पुलिस ने मुठभेड के बाद 25 हजारी इनामी हिस्ट्रीशीटर बदमाश रूस्तम को गिरफ्तार कर उसके कब्जे से 32 बोर पिस्टल तथा 315 बोर की मसकट बरामद करने में सफलता प्राप्त की है। कैराना कोतवाली पुलिस को मुखबिर खास से सूचना मिली थी कि क्षेत्र के गांव गंदराउ मोड पर गेंहू के खेत में एक कुख्यात बदमाश छिपा हुआ है। पुलिस ने तुरंत बताये गये स्थान पर घेराबंदी की तो उक्त बदमाश ने वहां बने टयूबवेल के कमरे में छिपकर शरण ले ली, जिसके बाद स्वाट टीम व जनपद के चार थानों की पुलिस ने टयूबवेल के कमरे की घेराबंदी कर बदमाश को ललकरा, लेकिन कुख्यात बदमाश ने आत्मसमर्पण करने से मना कर दिया, जिसके बाद पुलिस ने हवाई फायरिंग शुरू कर दी, लेकिन बदमश ने भी टयूबवेल की छत बने जाल से फायरिंग शुरू कर दी। बार बार पुलिस टीम ने उक्त बदमाश को ललकारा और स्वयं को कानून के हवाले करने का आग्रह किया गया, लगभग एक घंटे के कडी मशक्कत के बाद बदमाश ने टयूबवेल के कमरे का दरवाजा खोलकर 32 बोर का पिस्टल तथा 315 बोर की मसकट बाहर फैंक दी और स्वयं को कानून के हवाले कर दिया।

इस दौरान मौके पर भारी पुलिस बल मौजूद रहा और पुलिस ने भी फूंक-फूंक कर कदम रखा। स्वयं पुलिस अधीक्षक शामली ने मुठभेड की कमान संभाल रखी थी और पल-पल अपनी टीम को निर्देश देते रहे। आखरी समय में पुलिस टीम एसपी के पीछे चल रही थी और हाथों में हथियार लेकर पुलिस अधीक्षक शामली डॉ० अजयपाल शर्मा अपने तेज कदमों से कुख्यात बदमाश की और बढते चले गये और फिर कुख्यात को मौके से पकड कर पुलिस टीम के हवाले कर दिया। बदमाश के छिपे होने की सूचना पर मौके पर ग्रामीणों की भारी भीड मौजूद थी, जो कुख्यात बदमाश को भीगी बिल्ली बनकर जाते देखना चाहती थी। पुलिस द्वारा पकडे गये बदमश ने अपना नाम रूस्तम पुत्र इकराम निवासी गांव खुरगान बताया है। पुलिस पकडे गये बदमाश की कुण्डली खंगालने में लगी हुई है।

25 राउंड फायर के बाद 25 हजारी पकडा पुलिस ने जंगल में छिपे बदमाश की घेराबदी के बाद उसे ललकराा तो बदमाश ने भी साहस दिखाया, लेकिन पुलिस अधीक्षक शामली डॉ० अजयवाल शर्मा की टीम के आगे बदमाश घुटने टेकने पर मजबूर हो गया। पुलिस ने टयूबवेल के कमरे में छिपे बदमाश को पकडने के लिये लगभग 25 राउंड फायर किये, पुलिस द्वारा की गयी हवाई फायरिंग का कुख्यात बदमाश रूस्तम ने भी टयूबवेल के कमरे की छत में बने रोशनदान से हवाई फायरिंग की, लेकिन पुलिस ने भी उसके दुस्साहस का जवाब गोली से दिया, जिसके बाद कुख्यात की हिम्मत जवाब दे गयी और आत्मसमर्पण करने में ही अपनी गनीमत समझी। कुल मिलाकर पुलिस ने 25 राउंड फायरिंग के बाद 25 हजारी हिस्ट्रीशीटर को दबोचने में सफलता हासिल की।

कुख्यात बदमाश पर दर्ज हैं लगभग दो दर्जन मुकदमे पुलिस मुठभेड के बाद पकडा गये कुख्यात रूस्तुम पुत्र इकराम पर लगभग दो दर्जन अपराधिक मुकदमे दर्ज है, जिनमें हत्या, लूट डकैती व गैंगस्टर आदि भी है। बताया जाता है कि रूस्तम पिछले काफी समय से पुलिस की आंखों में धूल झोंक कर फरार चल रहा था, जो पुलिस को चकमा देता चला आ रहा था, लेकिन पुलिस को मुखबिर खास से सूचना मिली कि गंदराउ मोड के निकट एक कुख्यात छिपा हुआ है।

पुलिस ने तुरंत कार्यवाही करते हुए जंगल को घेर लिया था, जिसके बाद उसे पकड लिया गया है। दो राज्यों में है 25 हजार का इनाम पुलिस मुठभेड के दौरान पकडा गया रूस्तम युपी ही नहीं, बल्कि हरियाणा में सक्रीय था, जहां उसके खिलाफ कई अपराधिक ममाले दर्ज है और पांच हजार का इनाम भी घोषित किया हुआ है। कुख्यात रूस्तम ने अपने साथियों के साथ मिलकर कई अपराधिक वारदातों को हरियाणा में भी अंजाम दिया था। इतना ही नहीं जनपद शामली के अलग-अलग थानों में भी रूस्तम के खिलाफ अपराधिक मामले दर्ज हैं। और उस पर 20 हजार रूपये का इनाम भी घोषित था।

कुख्यात शातिर किस्म का अपराधी था जो पुलिस को चकमा देकर फरार चला रहा था, जिसे पुलिस अधीक्षक की टीम ने मुठभेड के दौरान जंगल में टयूबवेल के कमरे से धर दबोचा है। स्टीक सूचना पर बडी कामयाबी मुखबिर खास से कैराना कोतवाली पुलिस को सूचना मिली थी कि क्षेत्र के गांव गंदराउ मोड पर कुख्यात बदमाश ने खेतों में शरण ले रखी है। कोतवाली प्रभारी निरीक्षक भगवत सिंह तुरंत अपनी टीम को साथ लेकर मौके की और निकल पडे, लेकिन तब तक कुख्यात बदमश टयूबवेल के कमरे शरण ले चुका था।

बदमाश की घेराबदी को मेसेज जारी होने पर मौके पर थाना कांधला, झिंझाना कैराना सहित जनपद की स्वाट टीम मौके पर पहुंची थी, जिसने कडी मशक्कत के बाद कुख्यात बदमाश को हथियारों सहित धरदबोचा। साबिर एनकाउंटर के हीरो की मेहनत रंग लायी कैराना कोतवाली प्रभारी निरीक्षक व कुख्यात बदमाश साबिर एनकाउंटर के हीरो रहे भगवत सिंह की महनत यहां भी रंग लायी, जिन्होंने स्टीक सूचना मिलते ही चीते की फुर्ती के साथ अपनी टीम को साथ लेकर अपनी जान की परवाह न करते हुए कुख्यात बदमाश को ललकार दिया, जिसके बाद अपनी जान बचाने के लिये कुख्यात ने टयूबवेल के कमरे का सहारा लिया, लेकिन जनपद के पुलिस अधीक्षक ने स्वंय मौके पर पहुंचकर बदमाश को सकुशल पकडने की रणनीति तैयार की और घेराबंदी करते हुए पुलिस की ओर से लगभग 25 राउंड फायर किये गये, जिसके बाद कुख्यात बदमाश ने अपने हथियार फेंक दिये और पुलिस के सामने सरेंडर कर दिया।

पुलिस ने लगभग साढे तीन बजे बदमाश को घेरा। 3.45 पर पहला फायर किया ओर लगभग पांच बजे कुख्यात को दबोच लिया गया। पुलिस ने किया स्टेन ग्रेनेडों का प्रयोग पुलिस ने कुख्यात बदमाश रूस्तम को मुठभेड के दौरान पकडने के लिये जहां 25 राउंड हवाई फायरिंग की वहीं पुलिस ने लगभग चार स्टेन ग्रेनेडों का भी प्रयोग किया जिसमें तीन ग्रोनेड मौके पर ही फट पाये, जबकि एक स्टेन ग्रेनेड ने धोखा दे दिया जो गेहूं के खेत में जा कर गिरा। जिसे बाद में पुलिस टीम द्वारा डिस्फयूज किया गया है। पुलिस द्वारा मौके पर कुख्यात को पकडने के